Hindi Sex Story भाभी की गर्म चूत

Hindi Sex Story भाभी की गर्म चूत Antarvasna,Hindi Sex ,Kamukta,antarvasnamp3,antarvasnajokes,antarvasna2015, Hindi Sex stories,Indian Sex, antarvassna,chudai
Antarvasna भाभी की गर्म चूत हैलो मेरा नाम विवेक है और में पूरी का रहने वाला हु में ज्यादा तर समुंदर के किनारे में ही अपना वक्त गुजारता था वहा दिनभर बेठ के समुंदर को देखते रहता था और वहा नहाती हुई लडकियों को भी रोज शाम को वह एक भाभी अपने कुत्ते को घुमाने के लिए आती थी वो भाभी दिखने में मस्त माल थी में उसको भी देखता था एक दिन जब भाभी अपने कुत्ते को घुमाने के लिए आई तो उसना कुत्ता उनसे छुट गया और भागने लगा भाभी उस कुत्ते को पकड़ने के लिए पीछे पीछे भागने लगी कुत्ता मेरे पास से गया में उसका पट्टा पकड़ लिया तभी भाभी मेरे पास आई और उसने कहा थैंक्स और मेंरे हाथ से कुत्ता केलर चली गई l

अगले दिन फिर वो भाभी कुत्ते को घुमाने आई में वही बेठा था तभी भाभी मेरे पास आई और उसने कहा रोज याहा क्यों बैठे रहते हो मैने कहा मुझे यहाँ अच्छा लगता है और में भाभी से बात करने लगा मुझे वो भाभी अच्छी लगती थी में रोज उनसे बात करता था धीरे धीरे हम दोनों के बिच करीबी बढ़ती गई मैने पुछा आपके पति क्या करते है तब उसने बताया की उनके पाती नेवी में है और 6 महीने जहाज में रहते है में अपने घर में अकेली रहती हु धीरे धीरे मेरा उनके घर भी आना जाना सुरु हो गया में उसना छोटा मोटा काम कर देता था में उस भाभी को चोदने के चक्कर में था एक दिन में भाभी के घर कुछ काम कर रहा था की रात हो गई भाभी ने कहा अब तो रात हो गई है तुम यही रूक जाओ मैने हा कर दी और में रूक गया और भाभी के साथ खाना बनाने में मदद करने लगा l

में जितने भी देर भाभी के साथ था मेरा लंड खड़ा हुआ था पर में भाभी से डायरेक्ट बात करने से डर रहा था खाना बनाने के बाद में भाभी ने कहा में थोडा नाहा के आती हु और भाभी नहाने के लिए बाथरूम में चली ईगी मैने अपने लंड को सहलाने लगा और भाभी को याद करने लगा मैने सोचा की भाभी को नहाते हुए देखा जाये और में बाथरूम की और जाने लगा और उपर एक खिड़की से झक के देखने लगा मुझे अपनी आखो में यकीन नहीं हुआ भाभी अपनी दोनों पैर फेला कर जमीन में बेठी हुई थी और अपनी चूत में ऊँगली कर रही थी मैने धीरे से दरवाजे को धक्का दिया दरवाजे की कुण्डी नहीं लगी थी में बाथरूम में अंदर चला गया भाभी मुझे देख के घबरा गई में तुरंत भाभी के पास गया और भाभी को अपनी बाहों में ले लिया और भाभी को किस करने लगा l

भाभी भी सुरु में थोड़ी शांत थी फिर भाभी भी मेरा साथ देने लगी और मेरा कपडा उतारने लगी और मेरे लंड को अपने मुह में लेकर चूसने लगी में भी भाभी के बड़े बटले को दबाने लगा मुझे बहुत ही मजा आ रहा था में ने कहा अआह भाभी अआह और भाभी मेरे लंड अपने मुह में अंदर अंदर तक लेने थोड़ी देर बाद मैने भाभी की चूत में ऊँगली करना सुरु किया भाभी की चूत बहुत ही मजे दार थी मे भाभी का चूत चाटने लगा और भाभी आआअ अआः अआः अकरने लगी फिर भाभी ने कहा अपना मोटा लंड मेरी चूत में डालो मैने तुरंत ही मैने अपना सुपाडा भाभी की चूत में रगड़ने लगा और धीरे धीरे भाभी की गर्म चूत में अपना लंड डालने लगा l

भाभी मेरे लंड को पूरा अपनी चूत में अंदर अंदर तक लेने लगी और अआह अआह करने लगी और में भाभी के बटले को दबाने और भाभी को चोदने लगा फिर मैने उस भाभी की चूत में अपना मुठ गिरा दिया और और भाभी की चूत को गीली कर दी उस दिन के बाद से में भाभी को रोज चोदने लगा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *