मेरी फ़ेसबुक फ्रेंड नेहा की चुदाई

सब को पर्णाम, मैं कोई स्टोरी राइटर नही हूँ और मेरी ये साची घतना है जो मेरी पुणे मे घाटी है और मेरा नाम साहिल मल्होत्रा है और मैं पुणे मे कॉरेगाओं पार्क मे रहता हूँ, अब आप लोगो का टाइम वेस्ट ना करते हुए सीधा स्टोरी पर आता हूँ, 13त नोव 2014 को मेरे पास एक लड़की की फ्रेंड रिकवेस्ट आई नाम था नेहा (फेक नाम) उसने मुझे फ्रेंड रिकवेस्ट भेजी और मैने उसको 14त नोव 2014 को आड कर लिया और मुझे लगा कोई लड़का होगा फेक नाम से लड़की की आइडी से चाट कर रहा है और एक दो दिन इसे ही चाट चलती है, 6त देख को मेरी हॉलिडे थी मैने वैसे ही फ़ेसबुक ऑनलाइन करके भेता और उस टाइम वो भी ऑनलाइन आएगी, नेहा “ही साहिल” साहिल “ही” नेहा “आप पुणे मे कहा से हो?” साहिल “मैं कॉरेगोआन पार्क से हूँ” नेहा “आप अपनी कोई फोटो शेयर करोगे” साहिल “अगर मुझे विश्वश हो जाए आप लड़की है तो डेफेनेट करूँगा नही तो नही” नेहा “अब मैं आपको विश्वश कैसे दिलौं”.

साहिल “एक मिंट फोन पर अपनी मीठी से आवाज़ मे बात कर लो मुझे विश्वास हो जाएगा आप लड़की हो” नेहा “नही मैं फोन पर बात नही कर सख्ती” साहिल “ओके” नेहा “गिव मे युवर नंबर ई विल कॉल यू लेटर” उसके बाद मैने उसको अपना नंबर दे दिया पर उस दिन उसका कॉल नही आई और एक दो दिन तक भी उसकी कॉल नही आई, मुझे लगा वो भूल गयी या सिर्फ़ मज़े लेने के लिया फोन किया था, 11त देख को शाम को एक अननोन नंबर से एक फोन आता है और जैसे ही मैं हेलो बोलता हूँ वाहा से बहुत स्वीट अंदाज़ मे, मैने बोला “आप कोन बोल रही है” देन वो बोली “गेस करो कोन बोल रही है” मैने गेस नही किया तो वो बोली “नेहा बोल रही है” उसके बाद उसने थोड़ी ढेर बात करी और मैने उसको वेट्स आप पर फोटो भेज दी, अब रोज़ हमारी बात होने लगी पर अभी तक हम मिले नही थे, तो 23र्ड देख को उसने मुझे बोला की पार्टी के लिया कहा जा रहे हो, तो मैने बोला की यार कोई साथ नही है और स्टॅग मे क्या फ़ायदा अगर कोई कंपनी होती तो चलता.

देन मैने पूछा आप कहा जा रही हो तो वो भी मेरे साथ भी सही अगर कोई कंपनी होती तो जाती पर अब कैसे जाऊ, तो मैने उसको बोला हम एक दूसरे को कंपनी दे सखते है तो उसने बोला सोच कर बत्यो पर एक दिन भी हमारी नॉर्मल बात होती है, अब साथ साथ हमारी नॉटी बाते भी होने लग गयी रीडर्गिंद सेक्स पर ज़्यादा नही, तो उसने 29त को बोला आप मुझे कहा पर लेकर जयोगे तो मैं उस टाइम वेस्टिन मे था तो मैं उसी टाइम बोल दिया कुए बार (ये बहुत अच्छा डिस्को है पुणे मे और कॉरेगोआन पार्क मे भी) देन उसने बोला वो लेट हो जाएगी और पीके प्ग मे भी नही जा सकती हूँ देन मैं बोला की मैं कॉरेगोआन पार्क मे अकेला रहता हूँ अपने फ्लॅट पर आप वाहा पर रुक सख्ती है और थोड़े से दरमे करने के बाद वो मन गयी और मैने सोचा तैयार है अब चुदने के लिया,

31स्ट्रीट की ईव्निंग को मैने बहुत सारे फ्लवर्स लेकर आया और अपना पूरा बेड साझा दिया और उसके बाद उसको उसके प्ग से पिक करके सीधा वेस्टिन लेकर चला गया और वाहा पर हमने बहुत एंजाय किया और पार्टी करी और उसके बाद 3 बजे उसको अपने रूम पर लेकर आया, जैसे ही उसने रूम खोला तो उसने बेड पर बहुत सारे फ्लवर्स देखे तो उसको देखते ही समाज मे आ गया और उसने उसके बाद मुझे टाइट हग करा और मैने भी उसको टाइट हग करा और उसके बाद हमारे लिप्स आपस मे मिल गये और हम एक दूसरे को वाइल्ड्ली किस करते रहे, उसके बाद किस करते करते मैने अपना ब्लेज़र उतार दिया और कंटिन्यूवस्ली किस कराता रहा और अब मैं उसको उठा कर बेड पर ले गया और उसके सारी से अलग की कुसभू आ रही थी और अब मैं उसके नच के बाद किस कर रहा था और वो मेरे बॅलो पर हाथ फेयर रहे थे और साथ साथ मे अपनी शर्ट रिमूव कर और वो वन ब्लॅंक वन पीस मे थी और अब मैने उसका वन पीस निका दिया.

वो रोज़ के फ्लवर के बीच मे ब्लॅक पैंटी और ब्रा मे बहुत सेक्सी लग रही थी और जैसे ही मैने उसके बूब्स को हाथ मे लिए तो उसके मूह से माउन की आवाज़ आई “आअहह आअहह” और मैने उसकी ब्रा निकल दी और बहुत मस्त मोटे मोटे बूब्स थे उसके और ब्राउन निप्पल और अब उसके बूब्स को मूह मे लेकर कंटिन्यूवस्ली चूस रहा था, अब उसके निप्पल बहुत हार्ड और एरेक्ट लग रहे थे और वो भी मेरे लॅंड को साथ से पड़क्ने की कोशिश कर रही थी, देन मैने अपनी जीन्स और आंडरवेयर एक साथ निकल थी और मेरा लॅंड भी लोहे की रोड की ट्राया कड़ा था और उसने मेरे लॅंड को टाइट अपने हाथो मे पकड़ लिया और फिर मैं दोबारा उसके बूब्स को मूह मे लेकर चूसने लग गया, बूब्स को चूस्ते चूस्ते मैं उसकी नेवाले पर किस करते करते उसकी पैंटी के पास आ गया और उसकी पैंटी पूरी गिल्ली थी और जैसे ही मैने पैंटी के ऊपर मूह रहा तो उसके मूह से बहुत तेज आहह की आवाज़े निकली और उसके बाद मे उसकी पैंटी निकल कर फेंक दी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *