एक मस्त लड़की को सड्यूस किया

हेलो दोस्तो कैसे हो? मेरा नाम योगेश आगे 26, दिखने मे एवरेज हू लेकिन किसी भी आंटी या लड़की को सेटिसफ़ाई कर सकता हू. बाकी के लोगो के जैसा नही बताउँगा की मेरा लंड 9 इंच बड़ा है लेकिन उतना है जिसे हर कोई सेटिसफ़ाई हो सकता है. मैं पुणे से बिलॉंग कराता हू ये मेरी पहली सेक्स स्टोरीस है अगर कोई भूल हो जाए तो माफ़ करना.

अब ज़्यादा बोर ना करते हुए स्टोरी पे आता हू. लड़को को बीनती है की वो आपने लंड को संभाल के रखे और आंटी अपनी चुत क्योंकि पानी तो दोनो का निकल जाएगा कहानी पढ़के. स्टोरी की हेरोइन है योगिता पुणे से जिसे मैं फ़ेसबुक पे मिला था आगे 23 दिखने मे एकदम पटका आइटम थी 34 30 32 का फिगर था और रोड पे से गुज़रे तो बुड्ढे आदमी का लंड भी खड़ा हो जाए.

एक दिन मैं लेट नाइट चाट कर रहा था मुझे योगिता का सजेशन आया था तो मैने रिकवेस्ट भेज दी. दो दिन बाद उसने रिकवेस्ट आक्सेप्ट की तो मैने ही मेसेज किया उसका भी रिप्लाइ आ गया. हम रोज एक दूसरे के साथ बात करने लग गये ज़्यादा टाइम स्पेंड करने लग गये. हम एक दूसरे के साथ काफ़ी घुल मिल गये थे.

एक दिन मैने उससे पूछा तुम्हारा कोई बाय्फ्रेंड है क्या तो उसने कोई रिप्लाइ नही किया लेकिन मेरे ज़ोर देने के बाद उसने बताया की उसका बाय्फ्रेंड था लेकिन ब्रेकप हो गया. उसने भी मुज़से पूछा तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है क्या मैने कहा नही फिर हम सो गये.

वॅलिंटाइन दे नझडीक आ गया था तो मैने उससे बोला मुझे तुमसे मिलना है वो भी रीडी थी हम पुणे मे एक कॉफी शॉप पर मिले घूमे और जाते समय मैने उसे प्रपोसे किया लेकिन उसने कोई जवाब नही दिया बाद मे बताउँगी बोल के नंबर दे के चली गयी.

रात को मैने उसे मेसेज किया.

मैं-ही.

योगिता -ही.

मैं – मुझे मेरे क्वेस्चन का अभी तक आन्स नही मिला.

योगिता- देती हू इतनी जल्दी क्या है.

मैं- आपसे सक्चा प्यार कराता हू ई लव यू सो मच योगिता.

योगिता- ई लव यू 2 योगेश.

मैं बहुत खुश हो गया. अब हम रोज रात को बात करने लगे धीरे धीरे बाते सेक्स चाट मे बदल गयी.

नेक्स्ट रात.

मैं-ही.

योगिता-ही.

मैं- क्या कर रही हो.

योगिता- बेड पे लेती हू और बचाई फील कर रही हो.

मैं-क्या पहना है?

योगिता- गाउन पहना है ठंड लग रही है और तुमने.

मैं – शॉर्ट पहना है. तुम्हारा साइज़ क्या है?

योगिता-34 30 32.

मैं- बहुत अच्छे से मेनटेन रखा है बूब्स को?

योगिता – हां तुम्हारे लिए.

अब मुज़से रहा नही जा रहा था मुझे उसको चोदना था तो मैने मौका देख कर योगिता को घर बुला लिया, घर आने के बाद मैं उससे अपने रूम मे ले गया और हम दोनो बेड पे बैठ कर बाते करने लगे, चिपक के बैठे बैठे मैं बाते करते करते बीच बीच मे उसके गाल पे किस भी कर लेता और कभी हाथ कपड़ो के ऊपर से ही उसके पेट और थाइस पे फेरने लगता, जो की उससे भी पसंद था तो उसने भी मुझे नही रोका.

लेकिन मैं जनता था की इस से आगे कुछ भी नही किया जा सकता था, सो मैने उससे बोला की एक स्मूच दे ना, उसने एक स्माइल दिया और फेस दूसरी तरफ घुमा लिया, और बोला नही, मैने बोला अभी लव ईच अदर ना, उसने बोला लेकिन ई डोंट लाएक ऑल तीस, तो मैं चुप हो गया, मैं तो चुप हो गया लेकिन मेरा लंड जो खड़ा हो गया था वो नही बैठ रहा था, तो मैने सोचा आज सिड्यूसिंग स्किल्स ही ट्राइ किए जाएँ अपने.

थोड़ी देर बाद मैने उसको हग किया और धीरे धीरे फिर से उसके आर्म्स और बॉडी को रब करने लगा, क्यूंकी हल्का हल्का ठंड का मौसम था तो ऐसा करने मे उससे बड़ा मज़ा आता था, ऐसा करते करते मैने अपना एक हाथ उसके पेट पे रख कर रब करने लगा.

रब करते करते उसका टॉप ऊपर हो गया और मैने धीरे से अपनी फिंगर्स उसके टॉप के अंदर डाल के उसकी नेवाले पे रब करना शुरू कर दिया, थोड़ी ही देर मे उसकी आँखे मे रीडनेस आने लगी तो मैं समझ गया की ये पूरा एंजाय कर रही है.

मैने मौका देख कर उस से सेक्स के बड़े मे बात करना शुरू कर किया, और पूछा की तुम्हे अच्छा लग रहा है ना जो मैं कर रहा हूँ अगर नही लग रहा तो मैं हटा लेता हूँ हाथ उसने कुछ नही बोला बस मेरे हाथ पे अपना हाथ रख दिया, जिसका मतलब मैने ये समझ लिया की उससे ये बहुत अच्छा लग रहा था.

फिर मैने उसके गालों पे किस किए बहुत सारे और फिर धीरे से टॉप के ऊपर से मैने उसके बूब्स पे हाथ लगाने की कोशिश की तो उसने मुझे रोक दिया और मुझे कस के हग कर लिया और मेरे कान मे बोला, प्लीज़ डोंट.

मुझे एक बार गुस्सा तो आया लेकिन आइ लव हर सो मच की मैने उसके फोरहेड पे किस करके सॉरी बोला और उससे फिर से हग कर लिया लेकिन दोस्तो क्या करूँ ये लंड है की मानता नही, ई थॉट की ट्राइ तो मैं कराता रहूँगा जब तक ये हाँ नही करेगी.

मैने फिर उसके टॉप के अंदर पेट पे हाथ रब करना शुरू किया और वो रिलॅक्स हो कर एंजाय करने लगी थोड़ी देर मे उसने आँखे बंद कर ली, मैने उससे बोला आराम से लेट जाओ, और हम दोनो चिपक के लेट गये.

तभी अचानक वो मेरी ओर पीठ करके लेट गई और मेरा हाथ खीच कर अपने टॉप के अंदर पेट पर रख लिया, अब मैं उसके पीछे लेता था और मेरा लंड उसके गान्ड की ठीक सेंटर की लाइन पे टीका हुआ था.

अभी बोत वर एंजायिंग तीस पोज़िशन वेरी मच, उसके पेट पर हाथ फेराते हुए मैने धीरे से अपना हाथ नेवाले के जस्ट नीचे उसकी जीन्स के अंदर डालने की कोशिश की लेकिन जीन्स टाइट होने की वजह से वहाँ फस गया पूरा अंदर नही जा पाया.

योगिता की फेस की तरफ देख कर मुझे लगा ये सो रही है, अगर मैने हाथ ज़ायदा ज़ोर से घुसने की कोशिश की तो कहीं वो उठ ना जाए, और मैने हाथ निकल लिया और फिर से पेट पे फेरने लगा.

मैने सोचा की दोबारा ट्राइ कराता हूँ, इस बार जब मैने कोशिश की तो मेरा हाथ सीधा अंदर चला गया और उसकी पैंटी के ऊपर चुत पे जा कर रुका, ई वाज़ शॉक्ड की जीन्स इतनी लूस कैसे हुई जब मैने देखा तो उसकी जीन्स का बतन और ज़िप खुली हुई थी, मैं समझ गया की ये योगिता ने खुद ही खोले हैं और वो भी मज़े लेना चाहती है.

मैने धीरे-2 पैंटी के ऊपर से योगिता की चुत को रब करना शुरू किया तो 5 मिनिट के बाद ही उसकी पैंटी काफ़ी गीली हो गई, मैने अपना लंड पूरा उसकी गान्ड पे चिपका रखा था और एक हाथ से उसकी गीली गीली चुत सहला रहा था.

उसने तभी मेरा हाथ पकड़ कर अपनी पैंटी के अंदर सरका दिया, और मैं तो जैसे जन्नत मे पहुच गया, मैने ये अब नोटीस किया की उसकी चुत पे एक भी बाल नही था पूरी क्लीन थी, एक दम स्मूद, और मैं उसकी चुत की दर्रार मे उंगली फेरने लगा, जो पूरी गीली थी, और उसकी साँसे बहुत तेज़ हो गई, अब मैने उसके पीछे लेते लेते अपना दूसरा हाथ उसकी गर्दन के नीचे से निकल कर सामने की तरफ लिया और टॉप के ऊपर से ही उसके बूब्स दबाने लगा.

एसे करते करते सारी रात निकल गयी और मे उसे घर पे चोद आया.. मैं अभी भी उसे छोड़ने की कोशिश कर रहा हूँ पर अभी तक उसे चोद नही पाया… मुझे यकीन है जल्द ही उसे चोद लूँगा

एक मस्त लड़की और उसकी सहेली को चोदा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *