बड़े भाई के लंड से टक्कर ली

हैल्लो फ्रेंड्स, मेरा Antarvasna नाम नेहा है और मैं कलकत्ता की रहने वाली हूँ और मैं कॉल सेंटर में काम करती हूँ आप सबको पता ही की अभी ठंड का मौसम चल रहा है और हम सब भाई बहन बहुत मस्ती करते है और जब भी एक साथ मिलते है तो हम सब खूब पार्टी भी करते है।

मैं और मेरे बड़े हम दोनों लोग एक दूसरे को पंसद करते है और कभी कभी मेरे बड़े भाई मुझे किस भी करते है यह हमारे बीच में नॉर्मल है हम दोनों भाई बहन बहुत सेक्सी है और एक दूसरे से खुलकर बातें करते है। मेरे बड़े भाई ने मुझे ब्रा पेंटी में भी देखा है एक दिन मैं नहाकर बाहर आ रही थी तो मेरे बड़े भाई बाथरूम के बाहर खड़े थे और उन्होंने मुझे ब्रा पेंटी में देख लिया और मैं उनको सेक्सी वाली स्माइल देकर अपने कमरे में चली गयी मैंने अपने बड़े भाई के मोबाइल में बहुत सारी नंगी फोटो भी देखी है और वो गंदी गंदी वीडियो भी रखते है अपने मोबाइल में, मैं यह बात जानती हूँ क्यूकी जब भी बड़े भाई अपना मोबाइल घर पर छोड़कर चले जाते है तो मैं उनके मोबाइल मैं गंदी गंदी वीडियो देखती हूँ और उनके मोबाइल का पासवर्ड भी मुझे पता है और मुझे यह बात तो पता थी की बड़े भाई की गर्लफ्रेंड ज़रूर होगी अगर नहीं होगी तो वो किसी और को ज़रूर चोदते होंगे। एक दिन रात को मैं अपने बड़े भाई के कमरे में गयी थी देखा की वो अपने मोबाइल में सेक्स वीडियो देख रहे है और मूठ भी मार रहे है और उन्होंने मुझे नहीं देखा और मैं उनका लंड देखकर एकदम गरम हो गयी थी उनके जैसा बड़ा लंड तो मेरे बॉयफ्रेंड का भी नहीं था। मेरे बड़े भाई का लंड बहुत बड़ा और मोटा है। मुझे भी उनसे चुदवाने का मन करने लगा मैं भी अपने मोबाइल में सेक्स वीडियो देखने लगी और अपनी चूत में ऊँगली करके सो गयी मेरी चूत से बहुत सारा पानी निकला उस दिन और मुझे बहुत अच्छी नींद भी आई।

मैं सुबह उठी तो देखा की बड़े भाई बाथरूम में है और उसके बाद मैं बाथरूम में गयी तो देखा की बाथरूम में बड़े भाई मूठ मार रहे है तो मैं समझ गयी थी की बड़े भाई को चूत की ज़रूरत है और मुझे भी लंड की ज़रूरत थी वैसे बड़े भाई कभी कभी मुझे हवस भरी नज़रो से देखते थे लेकिन शायद उनको डर लगता था मेरे साथ सेक्स करने से, और मुझे भी बड़े भाई से डर लगता था की मैं उनके साथ सेक्स कैसे करूँगी। आप सबको तो पता है जब सेक्स करने का मन करता है तो तब कोई रिश्तेदारी नज़र नहीं आती है सिर्फ़ लंड और चूत नज़र आता है। इसलिए मुझे भी अपने बड़े भाई का लंड नज़र आ रहा था। मैं उसी दिन से अपने बड़े भाई को अपनी मम्मे और गांड दिखाने लगी वो जब भी मुझसे पानी माँगते थे तो मैं उनको पानी देते समय अपने मम्मे दिखाती थी और वो भी मेरी चुचि को देखते थे अब वो मुझसे रात भर मेरे बेडरूम में आकर बातें करते थे और मुझे बहुत सारे खाने की चीज़ें भी लाते थे और ऐसे ही हम दोनों भाई बहन एक दूसरे से खुल गये थे। एक दिन मैं और बड़े भाई एक दूसरे के साथ मस्ती कर रहे थे तो तभी मुझे कुछ महसूस हुआ मेरी गांड पर और मैं महसूस करने लगी और वो बड़े भाई का खड़ा लंड था वो मेरे साथ मस्ती कर रहे थे और उनको मेरे मस्ती करते करते उनका लंड उनकी पेंट में खड़ा हो गया था। मैं भी धीरे धीरे गरम होने लगी और उनके लंड को अपनी गांड पर महसूस करने लगी उनका लंड मेरी गांड के छेद पर लग रहा था और मेरे जिस्म में चुदवाने का नशा हो गया था और मैं एकदम गरम हो गयी और यह बात मेरे बड़े भाई को भी पता चल गई थी की मैं गरम हो गयी हूँ। मेरे बड़े भाई मुझे किस करने लगे और मुझसे बोले की नेहा यह बात किसी को मत बताना मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूँ और तुझे तो पता है की मेरी पत्नी भी अपने रिश्तेदार से मिलने गयी है और दोस्तों मैं आपको एक बात तो बताना भूल ही गयी मेरे बड़े भाई की पत्नी अपने रिश्तेदार से मिलने गयी है कुछ दिनों के लिए। मुझे भी चुदवाने का मन कर रहा था मैं भी अपने बड़े भाई को किस करने लगी और हम दोनों एक दूसरे को किस करने लगे मेरे बड़े भाई ने बताया की वो मेरी ब्रा और पेंटी को सूंघते है और मुझे देखकर बहुत बार मूठ भी मारते है मैं यह बात सुनकर हैरान थी मुझे भी पता चल गया था की मेरे बड़े भाई भी मुझे चोदना चाहते थे। मैं और मेरे बड़े भाई दोनों लोग एक दूसरे को किस करते करते एक दूसरे के कपड़े निकालने लगे और हम दोनों नंगे हो गये।

मेरे बड़े भाई मेरी चुचि को देखकर बोले नेहा तुम्हारी चुचि बहुत मस्त है और वो मेरी चुचि को चूसने लगे और मेरी चुचि को दबाने लगे और मैं भी सिसकारियां लेने लगी और अपने बड़े भाई के लंड से खेलने लगी और हम दोनों को चुदाई करने का मन हो गया था और हम दोनों बहुत गरम हो गये थे। हम दोनों एक दूसरे को कुत्ते की तरह चाटने और चूसने लगे फिर मेरे बड़े भाई ने मुझे बेड पर सुला दिया और मेरी चूत को चाटने लगे और बोले की बहुत दिनों के बाद मुझे चोदने को मिल रहा है मेरी पत्नी नहीं है इसलिए मैं रोज़ मूठ मारता हूँ और कभी कभी अपनी गर्लफ्रेंड को चोदने भी जाता हूँ लेकिन अब घर में एक माल मिल गयी है इसको रोज़ ही चोदूंगा और हम दोनों एक दूसरे को देखकर स्माइल करने लगे और मेरे बड़े भाई मेरी चूत को चाटने लगे और उसके बाद वो अपना लंड मेरी चूत में डालने लगे मुझे बहुत दर्द हो रहा था लेकिन मुझे मज़ा भी बहुत आ रहा था। मेरे बड़े भाई ने अपना लंड मेरी चूत में डाल दिया और मुझे चोदने लगे और मेरे बड़े भाई मुझे बहुत जल्दी जल्दी चोद रहे थे और मैं भी सिसकारियां ले रही थी और उनसे चुदवा रही थी वो अपने लंड से मेरी चूत चोद रहे थे और अपना लंड अन्दर बाहर कर रहे थे मुझे बहुत दर्द हो रहा था क्यूकी उनका लंड बहुत लम्बा और मोटा था लेकिन मुझे उनसे चुदवाने में बहुत मज़ा भी आ रहा था और मैं उनसे चुदवा रही थी। हम दोनों चुदाई करते करते झाड़ गये। दोस्तों यह कहानी आप कामलीला डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।

और फिर उन्होंने अपना लंड बाहर निकाला और मेरी चुचि पर अपना सारा माल निकाल दिया उसके बाद वो मेरी चूत को बहुत देर तक चूसते रहे और मैं दुबारा से गरम होने लगी और वो मेरी चूत को बहुत अच्छे से चूस रहे थे की इतने में ही मैं झड़ गई फिर मेरे बड़े भाई ने मुझे बोला की मैं डॉगी स्टाइल हो जाऊ और वो मुझे डॉगी स्टाइल में चोदने लगे और हम दोनों चुदाई का पूरा पूरा मज़ा लेने लगे। हम दोनों बहुत देर तक चुदाई करते रहे और मैं सिसकारियां भरती रही और अपने बड़े भाई से चुदवा रही थी और हम दोनों चुदाई करते करते झड़ गये। मैं और मेरे बड़े भाई दोनों लोग अब खूब सेक्स करते है जब भी घर में कोई नहीं होता है तो मेरे बड़े भाई मेरे कमरे में आते है और मेरी ब्रा और पेंटी निकालकर मुझे चोदते है। अब तो मुझे अपने बड़े भाई से चुदवाना बहुत ही अच्छा लगता है। अब तो मुझे अपनी चूत के लिए रोज़ लंड भी मिल जाता है चुदवाने के लिए और किसी को यह बात पता भी नहीं है की मैं अपने बड़े भाई से चुदवाती हूँ।

धन्यवाद कामलीला डॉट कॉम के प्यारे पाठकों !!