चौकीदार ने चूत फाड़ी

हैल्लो दोस्तों, मेरा antarvasna नाम पूजा है। में पंजाब की रहने वाली हूँ और मेरा फिगर साईज 32-30-34 है। में बी.एस.सी की स्टूडेंट हूँ। मेरे पापा मम्मी सरकारी नौकरी में है और मेरा भाई हॉस्टल में रहता है। यह बात आज से 2-3 महीने पहले की है। हमारे इलाक़े में चोरियाँ बहुत होने लगी थी इसलिए हमने एक चौकीदार रख लिया था। में दोपहर को घर में बिल्कुल अकेली होती थी। फिर एक दिन में कॉलेज से घर आई और खाना खाने के बाद चेंज करके टी.वी देखने लगी थी। तो तभी हमारा चौकीदार (मोनू) अंदर आया और बोला कि बाहर बहुत धूप है, क्या में कुछ समय के लिए अंदर बैठ जाऊं? तो तब मुझे उस पर तरस आ गया और फिर मैंने कहा कि तुम यही बैठ जाओ और में पानी लेकर आती हूँ।

फिर मैंने उसको पानी दिया और अब वो भी वही बैठकर टी.वी देखने लगा था। अब इंग्लिश मूवी चल रही थी। अब उसे कुछ समझ में नहीं आ रहा था। तभी अचानक से एक सीन आया, जिसमें हीरो हिरोइन किस करने लगे थे। तो तब मैंने चैनेल चेंज कर दिया। तो तब वो बोला कि वही मूवी लगाओ ना प्लीज और फिर वो बोला कि अब तो कुछ समझ में आने लगा था और आपने चेंज कर दिया। तब मैंने वही मूवी लगा दी। अब तक हीरो हिरोइन को बेड पर लेटाकर किस कर रहा था। अब वो इसे बड़े ध्यान से देख रहा था और अब वो धीरे-धीरे गर्म हो गया था। फिर उसने अपना एक हाथ मेरे हाथ पर रख दिया। तो तब मैंने अपना हाथ उठा लिया। तब उसने फिर से मेरा हाथ पकड़ लिया और बोला कि आई लव यू। तब मैंने कहा कि शट अप, तो तब उसने मुझे कसकर पकड़ लिया और बोला कि मेडम आई रियली लव यू। तो तब मैंने उससे छोड़ने के लिए कहा, लेकिन उसने मेरे बूब्स पर अपना हाथ डाला और किस करने लगा था। तब मैंने बहुत कोशिश की, लेकिन कुछ नहीं कर पाई थी।

अब उसने मेरा टॉप फाड़ दिया था। अब में भी थोड़ी गर्म हो चुकी थी। अब धीरे-धीरे मेरा विरोध कम होता जा रहा था और अब में भी उसका साथ देने लगी थी। फिर उसने मेरी ब्रा भी उतार दी और मेरे बूब्स चूसने लगा, वो मेरा फर्स्ट टाईम था। अब मुझे बहुत मज़ा आ रहा था। फिर वो मुझे उठाकर बेडरूम में ले गया। फिर उसने मेरी ट्राउजर पर अपना एक हाथ डाला और उसे भी उतार फेंका। अब में सिर्फ़ पेंटी में थी। फिर उसने अपने सारे कपड़े उतार दिए। अब उसका लंड खंबे की तरह तना हुआ था, जो कि करीब 9 इंच बड़ा था। अब में इतना बड़ा लंड देखकर घबरा गई थी और फिर मैंने उससे कहा कि तुम तो मेरी चूत फाड़ ही डालोगे। तो तब वो बोला कि घबराओ मत, कुछ नहीं होगा, थोड़े से दर्द के बाद मज़े ही मज़े है। फिर उसने अपना हाथ मेरी चूत पर लगाया और अब में सिसकियाँ भरने लगी थी। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर उसने मेरी पेंटी को भी उतार दिया और अब हम 69 पोज़िशन में लेट गये थे। अब में उसके लंड को अपने मुँह में लेकर चूस रही थी और वो मेरी चूत चाट रहा था और साथ में मेरी गांड में भी उंगली डाल रहा था। तो थोड़ी देर में ही मेरा पानी निकल गया और वो मेरा सारा पानी पी गया था। फिर उसने भी अपना पानी मेरे मुँह में ही छोड़ दिया। अब में भी उसका सारा पानी पी गई थी। फिर उसने मुझे किस करना शुरू किया तो थोड़ी ही देर में उसका लंड फिर से तन गया। फिर उसने अपने लंड पर थोड़ा सा तेल लगाया और फिर मेरी चूत पर तेल से मालिश की। फिर उसने मेरी दोनों टाँगे अपने कंधे पर रखी और अपना लंड मेरी चूत के होंठो पर रख दिया और फिर ज़ोर से एक धक्का दिया तो तब उसका आधा लंड मेरी चूत में चला गया। तब में ज़ोर से चिल्ला उठी। अब उसने अपने होंठो को मेरे होंठो पर रख दिया था और मुझे किस करने लगा था।

फिर 5 मिनट तक तो वो मुझे किस करता रहा और वैसे ही रहा। तो तब मुझे थोड़ा सा आराम मिला। फिर उसने एक और धक्का दिया तो तब उसका पूरा लंड अंदर चला गया। तो तब में ज़ोर-ज़ोर से चिल्लाने लगी और वो वैसे ही मेरे ऊपर लेट गया था। अब मेरी चूत में से खून बहने लगा था, लेकिन में जानती थी कि ये सब सील टूटने की वजह से हुआ है। फिर थोड़ी देर के बाद वो धीरे-धीरे धक्के मारने लगा। अब मुझे बहुत मज़ा आ रहा था, लेकिन दर्द भी हो रहा था। फिर थोड़ी देर के बाद में अपने दर्द को भूल गई और उसका साथ देने लगी थी। अब में 20 मिनट में दो बार झड़ चुकी थी और अब वो भी झड़ गया था। फिर उसने अपना सारा वीर्य मेरे मुँह पर फेंक दिया और में सब चाट गई थी। फिर उस दिन हमने 4 बार चुदाई की और फिर साथ में बाथ भी किया। फिर उस दिन से अब तक हमें जब भी कभी टाईम मिलता है तो तब हम खूब चुदाई करते है और खूब मजा करते है ।।

धन्यवाद …