तनु को ब्लेकमैल करके चोदा

हैल्लो दोस्तों, मेरा antarvasna नाम प्रेम है और में बेंगलोर का रहने वाला हूँ। अब में आपका ज्यादा समय ख़राब ना करते हुए सीधा मेरी स्टोरी पर आता हूँ। मेरा नाम प्रेम है, उम्र 24 साल, हट्टा कट्टा शरीर और सांवला रंग। ये बात करीब 2 महीने पहले की है, मेरी मुलाकात नेट पर एक तनु नाम की लड़की से हुई, जो रायपुर की रहने वाली थी। प्रेम मेरा असली नाम नहीं है ये नाम तो में अपने आपको छुपाने के लिए यूज़ करता हूँ। में उस लड़की से प्रेम बनकर मिला था। फिर में करीब 2 हफ्ते तक रोज नेट पर उसे मैसेज करता रहा। अब धीरे-धीरे वो मुझसे खुलने लगी थी और अपने बारे में सब कुछ बताने लगी थी। मैंने कभी उसे अपनी कोई सच्ची बात नहीं बताई थी और सब कुछ झूठ ही बोला था। फिर मैंने नेट की एक इंडियन एडल्ट साईट से एक आदमी की कुछ ऐसे फोटो कॉपी किए, जो रियल लगते थे और उन्हें अपने फोटो बताकर भेज दिया। तब उसने मेरी ई-मैल आई.डी पर एक-एक मिनट की 3 वीडियो क्लिप्स और अपने कुछ नॉर्मल फोटो भी भेजे।

फिर जब मैंने वो वीडियो क्लिप्स देखी तो दंग रह गया, उस क्लिप में वो लड़की एक लड़के से प्रोफेशनल रंडी की तरह चुदवा रही थी। फिर मैंने उसे बता दिया कि में भी रायपुर में ही रहता हूँ और उसे अच्छी तरह जानता हूँ। फिर मैंने उसे रायपुर के पार्क में मिलने को कहा। तब उसने मना कर दिया और कहा कि में उससे दुबारा संपर्क ना करूँ। तब मुझे बहुत गुस्सा आया और फिर मैंने उसे सीधा फोन से कॉल कर दिया। तब उसने मेरी आवाज नहीं पहचानी और अब वो बुरी तरह डर गयी थी। फिर मैंने उसे धमकी दी कि अगर वो मिलने नहीं आई, तो में वो वीडियो क्लिप उसके पेरेंट्स को सी.डी में कॉपी करके भेज दूँगा। अब उसके पास कोई चारा नहीं था इसलिए उसने मेरी बात मानना ही ठीक समझा।

फिर अगले दिन में पार्क में गया तो वो पहले से बैठी थी। तनु उस वक्त गजब की दिख रही थी, बड़े- बड़े बूब्स वाली, बड़ी गांड और एकदम कटरीना कैफ़ जैसी। फिर जब उसने मुझे देखा, तो वो समझ गयी कि में कौन हूँ? फिर वो मुझे देखकर पहले तो मुस्कुराने लगी। तब में मुस्कुराते हुए बोला कि पहचाना मुझे? तो तब उसने कहा कि हाँ, लेकिन मुझे याद नहीं आ रहा है। तो तब मैंने कहा कि इतनी स्माइल क्यों दे रही है? मुझसे डर नहीं लग रहा है क्या? फिर वो अचानक से सीरीयस हो गयी और बोली कि तुम क्या चाहते हो? तो तब मैंने कहा कि मुझे पहले ये बताओ उस वीडियो में वो लड़का कौन था? तो तब उसने कहा कि यह मेरा पर्सनल मामला है और में तुमको क्यों बताऊँ? तब मैंने कहा कि तेरे पर्सनेल मेटर की ऐसी की तैसी, जो पूछ रहा हूँ साफ-साफ बता, वरना में तो तेरे घर चला।

फिर तब वो अचानक से रोने लगी। तब मैंने उसे चुप करते हुए पूछा कि रो क्यों रही हो? तो तब उसने कहा कि में एक बहुत बड़े चक्कर में फँस गयी हूँ, वो पिक्चर्स और वीडियो मैंने ऐसे ही भेजे थे। अब मेरा इंटरेस्ट और भी बढ़ता ही जा रहा था और फिर उससे पूछा कि तुमने ऐसा क्यों किया? फिर तो उसने मुझे वो बात बताई जिसे सुनकर में हैरान हो गया था। फिर मैंने उससे कहा कि में उसे इस चक्कर से छुड़ा लूँगा, लेकिन मुझे इसके बदले में क्या मिलेगा? तो तब उसने मेरी तरफ एकटक देखा और बोली कि मेरे पास पैसे तो है नहीं और कुछ चाहिए हो तो माँग लो। तब मैंने कहा कि में तुम्हारी चुदाई करना चाहता हूँ। फिर तब वो बोली कि ओके, में तैयार हूँ, लेकिन तुम वादा करो कि मेरी मदद करोगे, तो तब मैंने वादा कर दिया। तब उसने कहा कि कब और कहाँ? तो तब मैंने कहा कि मेरे घर में अक्सर पापा मम्मी आते जाते रहते है, इसलिए अपना फोन नम्बर दे दो, में जब मौका देखूँगा तो तब तुम्हें मैसेज कर दूँगा।

फिर तब उसने अपना नम्बर बताया और कहा कि जब बुलाना हो तो जोक मैसेज भेजना और लास्ट में अपना नाम पूजा बताना। तो तब मैंने कहा कि ओके और फिर में अपने घर आ गया। फिर उसके एक हफ्ते के बाद हमारी पूरी फेमिली को एक पार्टी में इन्वाइट किया गया। फिर शाम को जब जाने का समय हुआ, तो तब में बार बार पेट खराब का बहाना बनाकर टॉयलेट में जाने लगा। तब पापा ने कहा कि अगर तबीयत ठीक नहीं है तो पार्टी में मत जाओ और फिर पापा ने मुझे टेबलेट दी और कहा कि खा लेना और चले गये थे। अब शाम के 7 बजे थे। फिर मैंने तुरंत तनु को मैसेज किया, तो 20 मिनट के अंदर ही वो मेरे घर पहुँच गयी थी। फिर मैंने उसको अंदर बुलाया और गर्म ठंडा पूछा। तो तब उसने कहा कि कुछ नहीं चाहिए, मुझे 9 बजे तक घर पहुँचना है। तो तब मैंने कहा कि ओके।

फिर मैंने उसे कंधे से पकड़कर उठाया और अपने लिप्स उसके लिप्स पर रख दिए। अब तनु ने अपनी बाहे मेरे गले में डाली थी और अब वो बेड पर खड़ी हो गयी थी और मुझे किस करने लगी थी। उसके गर्म-गर्म रसीले और स्मूद लिप्स के साथ अपने लिप्स को मिलाने और चूसने में बहुत मज़ा आ रहा था। अब मैंने अपने हाथ उसके कूल्हों पर रखे थे। अब में उसके होंठो को चूसते हुए उसके कपड़ो के ऊपर से ही उसके बूब्स को अपने हाथों में भरकर दबाने लगा था। अब में जितनी ज़्यादा ताकत से तनु के बूब्स दबाता, तो वो मुझसे उतना ही चिपक जाती और गूं गूं की आवाज करने लगती थी। फिर हम करीब 5-7 मिनट तक फ्रेंच किस करने के बाद अलग हुए और फिर अलग होने पर मैंने जैसे ही अपने हाथ से उसके सूट को उठाकर उसके बूब्स को छूने की कोशिश की। तब उसने अपने हाथ ऊपर कर दिए।

अब में समझ गया था और फिर मैंने उसका सूट निकाल दिया और फिर मैंने उसकी ब्रा भी निकाल दी, उसके बूब्स उसकी उम्र की लड़कियों से काफ़ी बड़े थे। फिर मैंने तुरंत उसकी एक चूची को अपने मुँह में भर लिया और चूसने लगा था। अब वो तरह-तरह की आवाज़ें निकालने लगी थी ऊम्म, आहह, उम्म्म्मम। अब वो मेरे बालों में अपनी उंगलियाँ फैरने लगी थी और मेरा सिर अपने बूब्स पर दबाने लगी थी। अब में बीच-बीच में उसके निपल्स को अपने दांतो से काट लेता था, जिससे वो और उत्तेजित हो जाती थी। अब तनु का मुँह लाल हो गया था। फिर मैंने उसकी चूचीयों को चूसते हुए उसकी सलवार का नाड़ा खोल दिया और फिर उसका नाड़ा ढीला करके मैंने उसकी सलवार और उसकी पेंटी को सरकाकर एक साथ नीचे कर दिया। तब मैंने पहली बार रियल चूत देखी, उसने पूरे बाल साफ कर रखे थे। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर में उसके बूब्स छोड़कर उसके बदन को चाटता हुआ उसकी चूत की तरफ बढ़ने लगा। फिर मैंने उसकी चूत के आस-पास के हिस्से को चाटा और उसकी चूत को छोड़ दिया। इससे वो तिलमिला गयी और मेरे सिर को पकड़कर खुद ही अपनी चूत पर रख लिया। अब में उसकी चूत को अपनी जीभ से चाटने लगा था। फिर जब मैंने अपनी जीभ उसकी चूत में डाली तो तब उसने मेरा सिर ज़ोर से अपनी चूत पर दबा दिया। अब में अपनी जीभ उसकी चूत के छेद में अंदर बाहर करने लगा था। अब उसने जल्दी ही पानी छोड़ दिया था। उसका जूस ऐसा था जैसे कच्चे अंडे को हल्के से नमक के साथ मिक्स किया हो। फिर वो उठकर बैठ गयी और मुझे बिस्तर पर लेटने को कहा। फिर मेरे लेटने के बाद उसने मेरी पेंट की चैन खोलकर मेरा लंड बाहर निकाला और अपनी मुट्ठी में भरकर मुठ मारने लगी थी।

फिर धीरे से उसने मेरा लंड अपने गर्म और सॉफ्ट होंठो के बीच में रखा और चूसने लगी, क्या बताऊँ दोस्तों? तनु से मुझे लंड चुसाने में कितना मज़ा आ रहा था? फिर मैंने अपने हाथ उसकी चूत पर रख दिये और फिर तनु ने अपने मुँह को खोला और मेरे 5 इंच लंड को अंदर ले लिया। फिर जब आख़िरी इंच बच गया तो तब मैंने उसका सिर ज़ोर से पकड़कर एक धक्का लगाया तो अब मेरा पूरा लंड उसके मुँह में था और उसके गले के भीतर तक पहुँच गया था। अब मेरे आनंद की कोई सीमा नहीं थी। अब में तो मज़े से पागल हुआ जा रहा था, तभी मुझे शरारत सूझी। फिर मैंने उसके कूल्हों पर अपने हाथ रखे और उसकी गांड को सहलाने लगा था। तभी अचानक से मैंने तनु की गांड पर एक जोरदार थप्पड़ मारा। अब वो ज़ोर से चिल्लाना चाहती थी, लेकिन सिर्फ़ गूवणन्न, गूणणणन की आवाज ही निकालती रही। तो इससे मेरे लंड में कंपन हुआ और फिर उसने अपने मुँह और गले को सिकुडा तो मुझे इससे बहुत मज़ा आया और फिर में उसके मुँह में ही झड़ गया। अब उसने मेरा पूरा जूस पी लिया था। फिर मैंने बिना समय खराब किए अपनी ऊँगली उसकी चूत में डाल दी और अपनी उंगली को अंदर बाहर करने लगा था।

अब वो मस्त हो गयी थी और तरह-तरह की आवाज़ें निकालने लगी थी सीए, उउउम्म्म्म। फिर अपनी उंगली को तेज़ी से हिलाते हुए मैंने उसके चूत के दाने को चाटना शुरू किया। अब में बीच-बीच में उसके बूब्स भी चूस लेता था। अब वो पूरी तरह से मस्त होने लगी थी और अपनी उंगली से अपनी क्लिट को रगड़ने लगी थी। फिर वो बहुत उछलकूद मचाने के बाद झड़ गयी। अब मेरे लंड में भी जान आने लगी थी। फिर मैंने अपना लंड उसके होंठो से टच कर दिया तो तब वो फिर से मेरा लंड चूसने लगी थी। फिर जब मेरा लंड पूरी तरह से खड़ा हो गया तो तब में बिस्तर पर सीधा होकर लेट गया और अब वो मेरे ऊपर चढ़ गयी थी। फिर उसने अपनी चूत को फैलाया और मेरे लंड का टोपा अपनी चूत में डालकर मेरे लंड पर बैठ गयी। अब में तो मज़े से पागल हो रहा था। अब वो खुद ही अपनी गांड ऊपर नीचे करने लगी थी और साथ-साथ में सेक्सी आवाज़ें निकालने लगी थी, एम्म, आआअहह, ले हरामी, संभाल मेरी चूत को, आह मेरा निकलने वाला है, आह। अब वो बहुत जोश में आ गयी थी और खुद ही बेंड होकर मेरे होंठो को चूसने लगी थी। अब मेरा भी पानी निकलने वाला था।

फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत में से बिना निकाले उसे नीचे कर दिया और खुद उसके ऊपर हो गया था। अब में उसे पूरी ताकत से चोदने लगा था। तभी वो झड़ गयी और फिर उसकी चूत ने ढेर सारा पानी छोड़ दिया। अब पानी की वजह से मेरा लंड आसानी से आने जाने लगा था। फिर में अपने दोनों हाथों से उसके बूब्स अपनी मुठ्ठी में भरकर उसे किस करने लगा और तूफान मैल की रफ़्तार से उसकी चुदाई करने लगा था। अब तनु मुझे चूसे जा रही थी और में उसको चोदे जा रहा था। अब में उसके बूब्स दबा-दबाकर उसको चोद रहा था। अब में उसे कुत्तिया के जैसे करके चोदने लगा था। अब तनु पागलों की तरह मेरा लंड घुसाने लगी थी। फिर में उसे मार-मारकर चोदता रहा और फिर में भी 2 मिनट के बाद ही झड़ गया और फिर उसके ऊपर ही पड़ा रहा। अब मेरे घरवालो का आने का टाईम हो गया था। फिर हमने तुरंत अपने-अपने कपड़े पहने और फिर मैंने उसे घर के बाहर ही छोड़ दिया और उससे कहा कि अब मेरे घरवाले आने वाले है, तुम जाओ, मुझे घर और बिस्तर ठीक करना है। फिर वो चली गयी, लेकिन अपनी हसीन यादे मेरे लंड पर छोड़ गयी थी ।।

धन्यवाद …