जवानी की मज़बूरी में भाई से भोसड़ा चुदवाया

हाय फ्रेंड्स, Antarvasna मेरा नाम परी है और आप सभी कामलीला डॉट के पाठकों के लिये मैं अपनी मस्त मजेदार चुदाई से भरपूर कहानी लेकर आई हूँ मुझे पता है की आप सब कामलीला डॉट कॉम की कहानियों को पढ़कर मुठ मारते होंगे और लडकियाँ अपने भोसड़े में ऊँगली करके सोती होंगी क्यूंकि मैं भी यह सब करती हूँ इसलिए आपको बता रही हूँ और आज आपको कहानी का पूरा मज़ा देने जा रही हूँ, तो दोस्तों तैयार हो जाओ ओहह दोस्तों मेरे भोसड़े ने तो अभी से ही पानी छोड़ना शुरु कर दिया पता नहीं आपका क्या हाल होगा कहानी पढ़कर, चलो फिर मैं अपने भोसड़े में ऊँगली करती हूँ और आप अपने लंड को पकड़कर हिलाते रहो और कहानी पढ़ते रहो।

दोस्तों आप सभी को मैं एक बात बता दूँ हमारे यहाँ बब्स को “बोबे” कहा जाता है और चूत को “भोसड़ा” और गांड को “गुदा” कहा जाता लेकिन मैं यहाँ आप सबको अपनी ही भाषा में समझाने जा रही हूँ। दोस्तों मैं 21 साल की एक मस्त जिस्म की मालकिन हूँ मेरा फिगर 34-30-34 है जो भी मुझे आगे या पीछे से देख ले तो तुरंत उसको अपना लंड सेट करना पड़ता है। मेरा एक मौसी का लड़का है उसका नाम विक्की है वो मुझे बहुत पसंद था वो 23 साल का जवान लड़का है उसका नाम विक्की था मैं उससे चुदना चाहती थी उससे चुदने के लिए मैंने काफ़ी लड़कियों से सलाह भी ली थी मैं जानती थी की वो भी मुझे देखता था पर हम दोनों अपने दिल की बात नहीं बोल पाते थे एक दिन भगवान ने मेरी सुन ली वो हमारे घर आया हुआ था, विक्की और हम सब लोग शादी में गये थे शादी पापा की पहचान में थी वहाँ पर मैंने मम्मी से झूटमूट बोला की मेरी तबीयत खराब है तो मम्मी ने मुझे जाने की ‘हाँ’ कहकर विक्की को भी यह कहते हुए घर भेज दिया की विक्की तुम साथ चले जाओ आज मैंने पूरा मूड बना लिया था की आज मैं इससे चुदकर ही रहूंगी क्योंकि आज रात घर में कोई नहीं आने वाला था पूरी रात हम दोनों ही अकेले रहने वाले थे फिर मैं घर आ गयी और अपने कपड़े चेंज करके मैं कमरे में आई मैंने अपनी ज़्यादा खुले गले वाली टी-शर्ट पहनी और उसके नीचे ब्रा नहीं पहनी, नीचे एक बिल्कुल चिपकी हुई सी कैपरी पहन ली जिसमें से मेरी गुदा निकली हुई दिख रही थी किसी भी लौंडिया के इतने हॉट होने से किसी का भी मन चुदाई की आग में घूम जाना पक्का हो जाता है उसका भी यही हाल हुआ वो मुझे देखते ही गर्म हो गया जो की उसका खड़ा हो चुका लंड बता रहा था। मैं उसके पास जाकर बैठ गयी और ऐसे ही इधर उधर की बातें करनी शुरू कर दी फिर मैंने उससे पूछा तेरी गर्लफ्रेंड है? उसने मना कर दिया फिर उसने मेरे बॉयफ्रेंड के बारे में पूछा तो मैंने भी मना कर दिया उसने अचानक मुझसे कहा परी आज तू बहुत हॉट लग रही है मैं तुझे किस करना चाहता हूँ पहले मैंने उसको मना किया पर फिर ‘हाँ’ कर दी। उसने मुझे अपने पास खींचकर मेरे होंठों पर किस करना शुरू कर दिया मैंने भी उसका साथ देना शुरू कर दिया यह मेरी पहला किस था मुझे मज़ा आ रहा था। कभी वो मेरी जीभ चूसता तो कभी मेरे होठों का रस पीता, फिर धीरे धीरे वो मेरी गर्दन चूमने लगा और फिर धीरे से मेरे कान की लौ को चूमा उसके कान चूमते ही मुझे एकदम करंट सा लग गया, मैंने उसको अपने से अलग कर दिया उसने मुझे दुबारा पकड़ा और किस करने लगा मैं गरम होने लगी फिर उसने एकदम से मेरी टी-शर्ट के ऊपर से ही मेरे बोबे दबा दिए मेरी एकदम आह… निकल गयी फिर उसने मेरी टी-शर्ट उतार दी मैं भी पूरा उसका साथ दे रही थी उसने मेरी टी-शर्ट उतारकर मेरे बोबे को मसल मसलकर चूसना शुरू कर दिया। मैं जोश में खोई जा रही थी मैं बस उईई… उईह… ही कर रही थी मेरे बोबे उसने मसल मसलकर लाल कर दिए फिर उसने मेरी कैपरी उतार दी और मेरी जांघों को चूसते हुए मेरे भोसड़े पर आ गया जैसे ही उसने मेरे भोसड़े में जीभ लगाई मुझे आग लग गयी और मैं पूरी मचल गयी, मेरे बदन में अजीब सा करंट दौड़ने लगा। फिर उसने मेरा भोसड़े चूसा और धीरे-धीरे ऊँगली डालकर चूसने लगा भोसड़े में ऊँगली जाते ही मेरी चींख निकल गयी फिर उसने मुझसे पूछा पहले चुदी है? मैंने मना कर दिया तो वो बोला आज तो तुझे अच्छे से चोदूंगा और मैं उससे भोसडा चुसवाते हुए मैं इतनी गरम हो गयी थी की मैं उससे कहने लगी विक्की चोद दे अब अपनी बहन को।

वो भी पूरा कमीना था वो खड़ा हुआ अपना लोवर निकालकर अपना लंड हिलाने लगा और मेरे मुँह के सामने अपना लंड कर दिया बोला ले चूस इसको उसका लंड बहुत लम्बा था मैं तोड़ा घबरा गयी मैंने पहले तो मना कर दिया, फिर उसके कहने पर मैं उसके लंड को चूसने लगी उसने मेरे बाल पकड़े और मेरे मुँह में पूरा लंड पेल दिया और मेरा मुँह चोदने लगा मेरी आँख से आँसू आ गये थोड़ी देर लंड चुसवाने के बाद उसने मुझे बिस्तर पर लिटाया और मेरे भोसड़े के ऊपर अपना लंड रगड़ने लगा वो बोला आज तू मेरी बन जाएगी उसने अपना लंड सेट करके एक ज़ोर का झटका मेरे भोसड़े में मारा उस झटके से मुझे ऐसा लगा जैसे की कोई मेरे भोसड़े में लोहा घुस गया हो मैं बहुत ज़ोर से चीखी पर उसने मेरा मुँह बंद कर दिया मैंने उससे छुटने की पूरी कोशिश की पर मैं उससे अलग नहीं हो पाई, मेरी आँख से लगातार आँसू बह रहे थे। कुछ देर वो उसी स्थिति में लेटा रहा और मेरे बोबे दबाता रहा फिर उसने धीरे धीरे अपना पूरा लंड मेरे भोसड़े के अंदर कर दिया उसका लंड मेरे भोसड़े के खून से लाल हो गया था कुछ देर बाद जब मैं तोड़ा नॉर्मल हो गयी तो उसने मेरी चुदाई शुरू कर दी पहले तो धीरे-धीरे चोदा फिर उसने अपनी स्पीड बढ़ा दी मैं भी आआहा… आह… ओहह… करके चुदती रही और अपनी चुदाई का पूरा मज़ा लेने लगी। दोस्तों यह कहानी आप कामलीला डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।

फिर उसने मेरी स्थिति बदली मुझे अपने ऊपर ले लिया और मैं उसकी गोद में बैठकर चुदने लगी इस पोज़िशन में मुझे अलग ही मज़ा आया जो मैं बता नहीं सकती मेरे मुँह से बस आह… और चोद… और चोद… निकल रहा था बस कुछ ही मिनट की चुदाई के बाद उसका निकलने वाला था, मेरा तो पहले ही हो गया था फिर उसने मुझसे पूछा मैं कहाँ निकालूं? तो मैंने उसको अपने भोसड़े में ही निकालने को बोल दिया उस रात हम दोनों ने अलग अलग पोज़िशन में 4 बार सेक्स किया। दोस्तों आपको यह तो याद है जब पहली बार लड़का और लड़की चुदाई करते है तो कम से कम 4 या 5 बार हो ही जाता है ऐसा ही हमारे साथ हुआ है। इसके बाद तो हम दोनों की चुदाई की गाड़ी चल पड़ी फिर एक दिन उसने मुझे अपने एक दोस्त के साथ ग्रूप में भी चोदा था और मेरी गांड का भुर्ता बनाया।

धन्यवाद…