अनजान नंबर से मिला चुदाई का मौका

हैल्लो दोस्तों Antarvasna मेरा नाम निहाल है और मैं दिल्ली का रहने वाला हूँ और आज आप सभी कामलीला डॉट कॉम के सेक्सी कहानियों को पढ़कर उनके मज़े लेने वालो के लिए यह कहानी लिख रहा हूँ दोस्तों कहानी थोड़ी छोटी जरुर है लेकिन मैं आपसे वादा करता हूँ की आपको मेरी यह सेक्स कहानी पसंद आयेगी। दोस्तों मेरा कद पांच फुट आठ इंच है और मेरे लंड की लंबाई सात इंच है तो चलिए दोस्तों आगे की कहानी की तरफ आते है।

यह बात आज से 8 महीने पहले की है, मेरे मोबाइल पर एक फोन आया जो की एक अनजान नंबर था उधर से एक लड़की बोल रही थी और शायद उसने ड्रिंक कर रखी थी उसने कहा, मैं इतनी देर से फोन मिला रही हूँ तुम मेरा फोन क्यो नहीं उठा रहे हो? वो मुझे अनाप-शनाप गाली देने लगी जब मैंने उससे कहा मैडम यह गलत नंबर है तो वो अपने आप पर बहुत शर्मिंदा हुई और उसने मुझे सॉरी बोलकर फोन रख दिया। अगले दिन उस लड़की का फिर से फोन आया और उसने फिर से सॉरी कहा और रात की बात के लिए मुझसे माफी माँगी तथा मुझसे मिलने की इच्छा जाहिर की। मुझे भी इसमें कोई ऐतराज नहीं था और अगले दिन तयशुदा जगह पर वो मुझसे मिलने आई तो उसे देखकर मैं तो हैरान रह गया वो इतनी सुंदर थी की उसकी सुंदरता के बखान के लिए मेरे पास शब्द नहीं है। उसने अपने बारे में बताया मेरे बॉयफ्रेंड ने मुझे धोखा दिया है और मैं टूट गयी हूँ तथा मुझे किसी का साथ चाहिए। मैंने उसे भरोसा दिलाया और उसने मुझे उसी दिन रात को उसके घर पर आने के लिए बोला उसने बताया की मैं आपकी कॉलोनी में रहती हूँ तथा आज रात को मैं घर पर अकेली हूँ।

हमारा मिलने का समय रात में 11 बजे तय हुआ पर मुझे अपने आप पर भरोसा नहीं हो रहा था की इतनी सुंदर लड़की एक मुलाकात में ही मुझसे रात में अकेले मिलने के लिए बेताब क्यो है। भरोसा ना होते हुए भी मैं ठीक 11 बजे उसके बताए हुए पते पर पहुँच गया और डोरबेल बजाई जब उसने ही दरवाजा खोला तो मुझे थोड़ी तसल्ली हुई। उसने मुझे अंदर बुलाया और सोफे की तरफ इशारा करते हुए बैठने को कहा थोड़ी देर में आने के लिए कहकर वह अंदर चली गयी। आप सोच रहे होंगे की मैंने उसका नाम क्यो नहीं बताया तो दोस्तों मैं कभी कोई वादा नहीं तोड़ता और उसने मुझे अपना नाम किसी को ना बताने के लिए अपनी कसम दी है। थोड़ी देर में वो काले कलर की नाइट ड्रेस में मेरे सामने आई और मेरा हाथ पकड़कर मुझे अपने साथ अंदर अपने कमरे में ले गयी जहाँ पर एक टेबल पर एक बोतल वोडका दो ग्लास और कुछ खाने का सामान रखा हुआ था। पहले हम दोनों ने वोडका पी फिर खाना खाया। अब दोनों को काफ़ी नशा हो चुका था उसने मेरी तरफ कामुक निगाहो से देखा मैंने उसकी तरफ हाथ बढ़ा दिया वो मेरे नज़दीक आ गयी हम दोनों एक दूसरे के होंठ चूसने लगे और कुछ देर बाद वो बोली आज की रात में तुम्हारी हूँ तुम जो चाहो वो मेरे साथ कर सकते हो। मैंने पूछा हम तो सिर्फ़ एक ही बार मिले है फिर तुम मुझ पर इतना भरोसा क्यो कर रही हो? तो उसने कहा जिसको मैं दो साल से जानती आ रही हूँ और प्यार करती रही हूँ वो तो किसी और के साथ मज़े कर रहा है। दो साल के प्यार में अगर मुझे धोखा मिला तो अगर तुमने भी धोखा दिया तो कम से कम यह दुख तो नहीं होगा। उसके बाद एक-एक करके मैंने उसके सारे कपड़े उतार दिए और उसने मेरे कपड़े उतार दिए। अब हम दोनों 69 की पोज़िशन में एक-दूसरे के अंगो को चूसने लगे और काफ़ी देर तक ऐसा करने के बाद वो मेरे उपर आ गयी। वो बोली जान अब सब्र नहीं होता वो मेरे लंड पर अपनी चूत रखकर दबाने लगी तथा 2 बार में ही उसने मेरा पूरा लंड अपनी चूत में घुसा लिया और धक्के मारने लगी। लगभग 15 मिनट तक धक्के मारने के बाद वो झड़ गयी तथा मेरे उपर ही लेट गयी। तो मैंने कहा अब मेरी बारी है मैंने उसे नीचे लिटाया और उसकी दोनों टाँगे फैलाकर उसकी चूत को थोड़ा चौड़ा करके अपना लंड उसकी चूत पर रखा और एक ही बार में पूरा का पूरा लंड उसकी चूत में उतार दिया वो बहुत तेज़ चिल्लाई पर मैं नहीं रुका, वो लम्बी-लम्बी सिसकारियाँ भरने लगी। और कहने लगी और जोर जोर से चोदो मुझे आहह… कितना मज़ा आ रहा था उसकी चुदाई करने में मुझे। मैं भी तबियत से उसकी चूत में अपना लंड पेल रहा था, वह भी मेरा अपनी गांड को उछाल उछालकर पूरा पूरा साथ दे रही थी। उसको भी बड़ा मस्त मज़ा आने लगा और मैंने उसको करीब 25 मिनट तक चूमते हुए धक्के देकर चोदा और अपने वीर्य को उसकी चूत में लंड को अंदर बाहर करके निकालना शुरू किया और उसके बाद लंड को बाहर कर लिया और अपने ढेर सारे वीर्य को उसकी चूत के ऊपर और जांघ पर गिर दिया। दोस्तों यह कहानी आप कामलीला डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।

उस रात हमने 2 बार और चुदाई की तथा सुबह 5 बजे मैं वहां से आ गया था। अब जब भी हमें मौका मिलता है तो हम चुदाई के वो पल कभी नहीं छोड़ते है। वो इतनी सेक्सी और सुंदर है की हर बार मुझे ऐसा लगता है जैसे की मैंने उसे पहली ही बार चोदा है।

धन्यवाद कामलीला डॉट कॉम के प्यार पाठकों !!