सेक्सी अंडर-गारमेंट्स की शॉपिंग

सेक्सी अंदर-गारमेंट्स की शॉपिंग
Antarvasna यह तो तुम्हें पता ही है की हम लड़कियों को शॉपिंग करना कितना पसंद है..खास-टूर से मुझे.. मुझेसेक्शय दिखना अच्छा लगता है ना…

जब मुझे महसूस होता है की मैं बहुत सुन्दर दिख रही हूँ तो मुझे अच्छा लगता है.

सेक्सी सेक्सी अंदर-गारमेंट्स पहन कर खुद को सेक्सी दिखना मुझे सबसे ज्यादा पसंद है.

मॉडेलिंग करते हुए मैं कई बार लाइनाये के फोटोशूटस करती हूँ तो तब सेक्सी ब्रा-पैंटी में मुझे देख कर मेरे क्र्यू के लड़के मुझे घूरते ही रहते हैं. ऐसा लगता है की उनकी आँखें मेरे न्यूड बॉडी को जैसे कहा जाएँगी..हहा.

कभी कभी मुझे अजीब लगता है पर इससे मुझे यह भी महसूस होता है की गाइस मुझे कितना चाहते हैं. गाइस की चाहत तो मुझे पसंद है.

मेरी सबसे फेवरेट लाइनाये रेड कलर की सिर्फ़ लेंस से बनी ब्रा और पैंटी की सेट है, जो थोड़ी ट्रॅन्स्परेंट भी है. अगर तुम एक बार मुझे देख लो ना..तुम तो बस पागल ही हो जाओगे.. हहा.. क्या पता मैं किसी दिन अपनी फेवरेट रेड ब्रा-पैंटी में कुच्छ फोटो तुम्हें भी भेज दम..

चलो चोदा वो सब, अब अपने कन्फेशन पर आती हूँ..कुच्छ दिन पहले मैं शॉपिंग के लिए गई थी. मेरी सहेली शहीन ने मुझे बताया था की मलाड के इनोर्बित माल के मार्क्स और स्पेन्सर्स स्टोर में काफी अच्छी लाइनाये आई हुई है, तो मैं भी देखने गई. लंच के बाद का टाइम था तो वहाँ स्टोर में ज्यादा लोग नहीं थे.

मैं इधर उधर देखती घूम रही थी तो वहीं स्टोर में काम करने वाला एक लड़का मेरे पास मेरी हेल्प करने आया, पूच्छने लगा की मुझे क्या चाहिए. वो लड़का मुझे बहुत क्यूट और इनोसेंट लगा.

पता नहीं क्यों पर मेरे मान में एकदम से सविता भाभी’ के पहले एपिसोड ‘ ब्रा सेल्समेन’ का ख्याल आ गया. हां..हां.. तुम्हें याद है वो ब्रा सेल्समेन सविता भाभी के घर आया था और आख़िर में उसे सिड्यूस कर दिया था.. ही..ही..

तो मैंने भी उस बेचारे को सटा कर थोड़ा मजा लूटने की सोची. मैंने उसे बताया की मैं अपने लिए कुच्छ सेक्सी अंदर-गारमेंट्स देख रही हूँ.. और हे भगवान..अगर तुम भी देखते.. उसे लड़के का फेस देखने लायक था..

वो एकदम से नर्वस हो गया और शरमाते लगा..कितना क्यूट लग रहा था वो..

तो मैंने कहा – चुप क्यों हो? मुझे कुच्छ दिखाओगे नहीं?

उसने खुद को थोड़ा संभाला और मुझे लाइनाये सेक्षन में ले जा कर कहा- “मां’आम, हियर इस और फुल रंगे”338जे235-10

मैं बोली – “हम, मुझे कुच्छ ऐसा लेना है जो आज रात अपने बाय्फ्रेंड से मिलने जाने पर पहन सकूँ..लेकिन मुझे पता नहीं की तुम लड़कों को क्या पसंद आता है, तुम ही मेरी थोड़ी हेल्प करो ना…”

हां..हां.. ऑफ कोर्स मैं तो उसे ऐसे ही तंग कर रही थी, लेकिन इसमें मजा बहुत आया.

मैंने उसी से पूछा की तुम ही बताओ मेरे ऊपर क्या सेक्सी लगेगा तो वो कुच्छ नहीं बता पाया और उसने यही कहा – आंटी ’में आपके उऊपर तो सब कुच्छ अच्छा लगेगा..

मैंने पिंक ब्रा-पैंटी का एक सेट देखा जो असल में काफी छोटा था, मुझे यकीन था की यह मेरे बॉडी को ज़रा भी ढक नहीं पाएगा..क्योंकि.. एम्म्म.. मेरी फिगर काफी अच्छी है.. मेरे कहने का मतलब समझ गये ना तुम..

मैंने उस पिंक लाइनाये को अपने हाथ में लेकर उस पर हाथ फिराया, फिर उसे अपनी टॉप के ऊपर लगाकर दिखाते हुए उससे पूछा – “तुम्हें क्या लगता है, यह मुझे फिट हो जाएगी?”

और मैं कई अलग अलग सेक्सी पोज़ बना कर उसे दिखाने लगी.

मैं देख रही थी की अब वो कुछ ज्यादा ही एंबरस्स हो गया था और स्टोर में कुच्छ और कस्टमर भी आ गये थे तो मैंने उसे कहा – “डोंट वरी, तुम जाकर दूसरे कस्टमर्स की हेल्प करो, मैं अपने लिए खुद कुच्छ देख लूँगी.”

जैसे ही वो जाने लगा, उसने तिरछी नज़र से मेरी तरफ देखा तो मैंने उसको एक विंक दिया. वो तो कपड़ों के एक स्टैंड से टकराते टकराते ही बच्चा..हां..हां..

तो तुम्हें क्या लगा? मैंने कुच्छ ज्यादा श्ररत कर दी थी या मैं इससे आगे कुच्छ और भी कर सकती थी?

मेरी फ़ेसबुक पर मेरे फ़्रेंड बन कर मुझे बताओ.. हां..हां.. क्या पता मैं नये आंडरवेयर में तुम्हारे लिए अपनी नहीं फोटो वहाँ उपलोआड कर दम..

तो बेबी..अभी इतना ही.. मुझे अभी चुत के लिए जाना है.. कल मैं अपने ‘ःइषील कॉमिक’ का 4त एपिसोड उपलोआड कर रही हूँ.. तो कल उसे देखने मेरी साइट पर आना याद रखना.. बायें, मुआः!
सेक्सी अंदर-गारमेंट्स की शॉपिंग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *