सविता भाभी के साथ सुहगरात

सविता भाभी के साथ सुहागरात शादी से पहले शादी की तैयारी चल रहा था पर मान में कुछ और ही चल रहा था .सविता भाभी को चोदने की प्लॅनिंग बना रहा था.सविता भाभी की फुद्दी में लंड घुसने की फिराक़ में था.सविता भाभी की पहेचन तो मैंने पहले स्टोरी में कराया था आप लोगों को.अगर आप लोग मिस कारगेएे हो तो जरूर रेड कीजिए .

यहां पे उनका परिचय ज्यादा नहीं देना चाहता हूँ.पर बोल के रखना जरूरी है देखने में पूरा गॉडेस लगती है साली.लंड सविता भाभी के मुंह और फुद्दी में हो तो जिंदगी समझो जन्नत हो गया.दिल और जान उनकी कदमों में हाजिर.वही मेरी खुदा मेरी मालकिन और मैं उसकी चुत का प्यासा असििक़.जो हर पल उसकी चुत की पूजा में लगी रहती है.याकीन मानिए ऐसा भाभी किसी के पास रहता है और किसी के बगल में या बिल्डिंग में या मोहोल्ले में रहती है,तो समझिए आप की लॉटरी निकल गयी.

मेरा शादी के तैयारी घर में ज़ोर शोर से चाल रहा है ,सुबाह उठते ही मेरी नाज़र भाभी को ढूंढ़ने में लग गया.पर आज भाभी कुछ ज्यादा ही नखरे दिखा रही थी.सुबह सुबह दूसरा दिन की तरह आज भाभी ने चाय लेकर नहीं आया. इस बात से मुझे बहुत ही गुस्सा आया.बोला साली रंडी सविता तुझे आज रात को फिर से सजा दूँगा .तेरी फुद्दी को लंड से फड़ुँगा और तुझे मेरी आंटी बनाऊंगा.सुहागरात से पहेलेहि सुहागरात मनौँगा सविता रंडी के साथ.

मैं घर में चाय की कप लेकर बताई था की मेरे सेल में मेसेज आया ,मैं देखा तो सविता भाभी की मेसेज था.

“मुझसे जल्दी मिलो पीछे की खेत में”

मैं रेस्पॉंड किया,”क्यों? मेरी रूम में आ जाओ”

सविता भाभी,”बच्चों की तरह बात मत करो,आज तुम्हारे रूम में सब है,कोई हमें देख लेगा तो क्या सोचेंगे,तुम अरहे हो की नहीं?”

मैं,” हां अराहू हूँ 5 मिनट में”

उधर घर में सब है,पर मान तो है साला बावरा जो सविता की नाम की माला पूरा 24 घंटा जप्ते रहता है.
सविता भाभी इन रेड सारी और ब्लाउज शोयिंग हेयर बिग बूब्स
सविता भाभी बिग बूब्स

मैं स्कोर कॉंडम का एक पैकेट लेकर चला गया जो मैं अपने सुहागरात को इस्तेमाल करने वाला था.

भाभी पहले से ही पहुंच गया था,”इतना देर क्यों लगा दिए?”

मैं,”शादी मेरी हो रही है,बोलो जल्दी जल्दी क्या बोलना है?”

भाभी,”क्या बात है आज जल्दी में हो! आज भाभी की जरूरत खत्म हो गेय क्या ,भाभी की चुत का मजा और नहीं चाहिए क्या?”

मैं,”भाभी तुम मेरी वो प्यास हो जो ना कभी मिटने वाला है और ना कभी मितेगा ”

मैं उसकी कमर काश के पकड़ लिया और झारी में उसको लेता दिया ,उसने बोला,”अभी नहीं, चोरो मुझे.”

मैं उसकी एक बात भी नहीं सुनी ,” मैं बोला ये मेरी प्यार का परीक्षा है,और आज तेरी फुद्दी से खून निकलना है और उसी खून से तेरी माँग भरना है.”

भाभी बोला चल हाथ झुटे बहुत देख लिए तेरी प्यार ,मैं अब उसकी सारी को ऊपर उठना स्टार्ट किया ,और फिर उसकी सारी की पेटीकोट खोलने लगा .

और धीरे धीरे उसकी नरम और गरम चुत की पपड़ी को हाथ से सहलाने लगा ,उसने अपनी मुंह से सिसकारी निकालने लगी ,और ज़ोर ज़ोर से मेरी नाम चिल्लाने लगी.मैं उसकी मुंह में एक कपड़ा डाल दिया और फिर कॉंडम का पैकेट उसकी हाथ में दिया .

पहले वो मेरी लंड को लेकर हिलती रही ज़ोर ज़ोर से ,फिर मेरी 9 इंच मोटा लंड को अपनी मुंह
में लेकर आराम से चूस रही थी .और अपने हाथों से अपना फुद्दी में उंगली कर रही थी.

5 मिनट चलने के बाद बोला अब और सहम नहीं होता अब मेरी बुर् में डालो अपना लंड और फाड़ दो मेरा फुद्दी और मुझे तेरी बच्चे की आंटी बना.चल हरामी डाल जल्दी जल्दी,भाभी चोद.

सविता भाभी अपने देवर के साथ गांड मरवाने के लिए पैंटी खोल दिया है.अमेज़िंग सविता भाभी स्टोरीस और सविता भाभी पिक
सविता भाहभही की गांड

मेरी लंड और भी टन टनटन हो गया भाभी की मुंह से गाली सुन्नेक बाद.मैं अपना लंड लेकर हल्के से एक प्रेस किया और उसके बाद जैसे मैं जन्नत में.उसकी चुत मरते मरते मैं भूल गया मैं कहा पे हूँ .हमारे पूरा बॉडी में धूल मिट्टी लग गयी ,हमारे कपड़े बिखरे परे हुए थे .हम लोगों को कोई होश ही नहीं था .पूरा रात तक मैं झारीओ में सविता भाभी को चोदते रहा .और इसी तरह सविता भाभी के साथ झारीओ में मैं शादी से पहेलेहि सुहाग रात मना लिया था .

और फिर सुबह उठ के मैं पहले पहुंच गया घर और फिर भाभी उसके बाद पहुंच गया .और भाभी ने बोल दिया की इसकी खबर किसको भी नहीं होना चाहिए .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *