भाई की बर्तडे पार्टी

मेरा नाम वैशाली Antarvasna है और लोग मुझे प्यार से वैीशू कहते है और मैं देहरादून में रहती हूँ और मेरे घर में मेरे अंकल जो की एक MNC में जॉब करते है और मेरी आंटी जो हाउसवाइफ है और मैं भी.ए 3र्ड एअर और मेरा भाई रवि जो मेरे चाचा का लड़का है जो बि. टेक कर रहा है, ये कहानी मेरी चुदाई की है मेरे कज़िन भाई और उसके दोस्तों ने मिलकर मुझे चोदा था वैसे तो मैं पहले भी बहुत बार चुद चुकी थी पर वो कहानी फिर कभी, मेरी उमर 21 साल है और फिगर 36,26,38 है और मेरी मटकती गान्ड को देख कर बूढ़ो के लंड में भी पानी आ जाता है और लड़के मुझ पर कॉमेंट्स करते है, जैसे क्या मस्त गान्ड है एक बार मिल जाए तो मजा आ जाए और जिन्हें सुन कर मुझे अच्छा लगता है, सो अब मैं कहानी पर आती हूँ उस दिन मेरे भाई रवि का बर्तडे था और आंटी अपने घर गयी हुई थी और अंकल लेट नाइट ही घर आते थे, सो सारी तैयारी मुझे अकेले ही करनी पड़ी और मेरे भाई ने कहा की उसके दोस्त भी शाम को पार्टी में आने वाले है…

फिर शाम को 5 बजे उसके सब दोस्त घर आ गये, मैंने एक टाइट सलवार कमीज़ पहन रखा था जिसमें से मेरा फिगर और भी मस्त लग रहा था, भाई के दोस्तों की नज़र मुझ पर से नहीं हाथ रही थी तो मैं भी उन्हें कभी-कभी स्माइल दे रही थी और उसके 5 दोस्त आए थे सन्नी मनोज शुभम संदीप और हॅपी, फिर जल्दी-जल्दी सबने केक कटा और वो लोग अपने साथ बियर भी लाए थे तो मेरे भाई ने मुझसे कहा की मैं आंटी अंकल को इस बारे में ना बताऊं तो मैंने कहा ओके तो उन सब ने बियर पी और मैंने सॉफ्ट ड्रिंक, फिर सब बातें करने लगे की कैसे वो सब कॉलेज में मस्ती करते है और गर्ल्स को चोदते है और फिर डिसाइड हुआ एक गेम खेलते है, एक बारे से जार में कुछ चिट्स बनकर डाल दी जिसने चित निकली उसे पर्ची में लिखा काम करना होगा, मैं भी उनके साथ खेलने लगी और सबसे पहले मेरे भाई रवि ने पर्ची उठाई उसने ऐक्टिंग करके दिखाई और फिर शुभम ने गाना गया और हॅपी ने भी ऐक्टिंग करके दिखाई.

फिर सन्नी और मनोज ने जोक्स सुनाए और मैंने डांस करके दिखाया और बहुत मजा आ रहा था तो अब उन्होंने आपस में कुछ बात की और उस जार में नयी चिट्स बनकर डाल दी, मैं कुछ समझ नहीं पाई और अब फिर से गेम शुरू हुई और मेरे भाई ने पहली पर्ची उठाई और उसमें लिखा था अपने अंडररवेर का कलर बताए तो भाई ने ब्लू बताया, फिर हॅपी को अपनी टी-शर्ट उतारनी पड़ी शुभम और संदीप को अपनी पेंट उतारनी पड़ी और मनोज और सन्नी ने भी अपने अंडररवेर का कलर बताया, मेरी बड़ी में आया की मैं अपना फिगर बताऊं तो मैंने ड्रामा किया अब मुझे नहीं खेलना पर भाई ने कहा की दीदी इट्स जस्ट आ गेम तो मैंने कहा ओके और मैंने अपना फिगर सबको बताया तो सबने कहा वाउ, सन्नी ने कहा वॉट आ हॉट फिगर तो मैंने कहा थेन्क्स और अब भाई को अपनी पेंट उतारनी पड़ी और धीरे-धीरे करके सब लड़के अंडरवियर में आ गये और मेरी बड़ी में मुझे अपने अंडरगार्मेंट्स का कलर बताना पड़ा और इस बार भाई को कपड़ों में ही सबके लंड पर अपनी गान्ड रगड़नी पड़ी.

और मेरी गान्ड पर उसने अपनी गान्ड रगडी, मुझे अपने कपड़े उतरने पड़े और मैं अब सिर्फ़ ब्रा पैंटी में थी और सब लड़कों की नज़र मुझ पर ही थी, शुभम को सबका लंड तीन बार सहलाना पड़ा और मेरी चुत सहलाई उसने और फिर मेरी बड़ी आई तो मुझे भी सबकी मूठ मारनी पड़ी तीन बार, अब म्यूज़िक शुरू हुआ और सब वैसे ही डांस करने लगे और मैं अब भी सिर्फ़ रेड ब्रा पैंटी में थी और सब लड़के मुझसे चिपक कर डांस कर रहे थे, उन्होंने मुझे घर लिया था और अब डांस करते-करते वो अपने लंड कपड़ों में ही मेरे जिस्म पर रगड़ने लगे कोई गान्ड पर तो कोई चुत पर और मुझे इस सब में बहुत मजा आ रहा था, किसी ने मेरी ब्रा की हुक भी खोल दिया और ब्रा झट से नीचे गिर पड़ी और अब मुझ पर वो लोग टूट पड़े और सन्नी ने बिना देर करे मेरा लेफ्ट बूब चूसने लगा, मनोज भी दूसरा बूब चूस रहा था और संदीप मेरी गांड पर हाथ फेयर रहा था और शुभम मेरी पैंटी निकालने की कोशिश कर रहा था.

तो मैंने अपनी लेग्स थोड़ी ऊपर उठा ली जिससे पैंटी निकल गयी और हॅपी ने मुझे किस करना शुरू किया, मैं भी उसका साथ देने लगी और मेरा भाई बियर पीते हुए ये सब देख रहा था और शुभम मेरी चुत चाटने लगा वो बारे मजे से मेरी चुत चाट रहा था, मुझे भी जन्नत का मजा आ रहा था और अब कमरे में सिसकियाँ गूँज रही थी और अब उन्होंने मुझे सोफे पर बिठाया और मुझे चूमने चाटने लगे तो मैंने भाई से कहा की तू भी आजा तो वो आ गया, अब मैं घुटनों पर बैठ गयी और वो सब मुझे घर के खड़े हो गये और सबसे पहले मैंने भाई का अंडरवियर नीचे किया और उसका लंड 7 इंच का होगा, तो मैं उस पर अपनी जीभ फिरने लगी और फिर धीरे-धीरे करके आधे लंड को मुंह में लेकर ज़ोर-ज़ोर से चूसने लगी और मेरा भाई बड़बड़ाने लगा, आहह दीदी मजा आ रहा है और ज़ोर से चूसो तो मैंने उसे दांता बहनचोद साले दीदी मत बोल कोई भी मुझे दीदी नहीं कहेगा आज मैं तुम सब की रंडी हूँ.

मुझे गालिया दे देकर चोदा जो करना है करो और फिर मैंने बड़ी-बड़ी सबका लंड चूसा और अब सब झगड़ने लगे की मुझे पहले कोन छोड़ेगा, तो मैंने कहा पहले मैं अपने भाई से चुद कर उसे गिफ्ट दूँगी और फिर जिसका लंड सबसे बड़ा होगा वो मुझे छोड़ेगा. तो मेरा भाई नीचे लेट गया और मैं उसके लंड पर बैठ कर उसे अंदर लेने लगी और धीरे-धीरे उसका पूरा लंड अंदर चला गया, फिर मैं उसपर बैठ कर उछालने लगी और सब हैरान हो गये ये देख कर की मैं वर्जिन नहीं हूँ और मेरा भाई बोला दीदी आप पहले कितने लोगों से चुद चुकी हो?, मैंने कहा मेरे प्यारे बहनचोद भाई गिनती नहीं है और मुझे हमारे पड़ोस के हर लड़के ने कॉलेज के प्रिन्सिपल समेट 2 प्रोफ़्फेस्ोर्स ने मुझे खूब चोदा है और भाई ये सुनकर और भी जोश में आ गया और नीचे से झटके मारने लगा, मैं भी उछाल उछाल के उसके हर धक्के को से रही थी और मेरे मुंह में अब सन्नी का लंड था और दोनों हाथों से मैं शुभम का हॅपी का लंड सहला रही थी.

संदीप और मनोज खड़े हुए अपने लंड सहला रहे थे, फिर भाई ने बढ़ता बढ़ा दी और मुझे ज्यादा मजा आने लगा आआहह आहह आहह और बोला की मैं झड़ने वाला हूँ, मैंने कहा चुत में मत झड़ना मेरे मुंह में गिरा दे अपना माल तो उसने अपना सारा माल मेरे मुंह में झाड़ दिया और मैं उसे पूरे को पी गयी, अब बड़ी सन्नी की थी मुझे चोदने की क्योंकि उसका लंड सबसे बड़ा था और उसने मुझे घोड़ी बनाया और पीछे से मुझे चोदने लगा और मैं मजे में चिल्ला रही थी आआहह उम्म्म्म और ज़ोर से चोद उम्म्म मजा आ रहा है आ आहह और संदीप का लंड मुंह में लेकर चूसने लगी, सन्नी भी 20 मिनट में झाड़ गया और अब 8 बज चुके थे तो मैंने कहा अंकल आने वाले है जल्दी जल्दी करो, मैंने शुभम को कहा की नीचे लेट जा और उसके लंड पे बैठ गयी और संदीप पीछे से मेरी गान्ड में अपना लंड डालने लगा और दोनों साथ-साथ मुझे चोदने लगे, मुझे बहुत मजा आ रहा था और हॅपी का लंड मेरे मुंह में था.

और मैं उसे चूसते हुए मजे से चुदाया रही थी, संदीप भी झाड़ गया और अब हॅपी ने अपना लंड मेरी गान्ड में डाल दिया और चोदने लगा और 30 मिनट में वो दोनों भी झाड़ गये, अब सबने कपड़े पहने और मुझे थेन्क्स कहा और जाते-जाते मुझे गुड नाइट किस देकर गये और मुझे उस दिन बहुत मजा आया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *