रसीली सानिया आंटी को प्रॅगनेंट किया 1

“अमन” 18 साल Antarvasna का हॅंडसम स्मार्ट और मसकुलर लड़का है. उसका लंड 8.5 इंच का है. जवानी का जोश उसके उप्पर हर वक्त सवार रहता है. ये उन दीनों की बात है… जब गर्मियों की छुट्टी चल रही थी और अमन अपनी बेहद सेक्सी और हसीना सानिया आंटी”सानिया” के साथ घर पे अपनी छुट्टियाँ गुजार रहा है.
सानिया बेहद खूबसूरत और सेक्सी है. गोरा रंग, काली ज़ूल्फेन, बेहद खूबसूरत गुलाबी ठोस चूची… चिकना सपाट पेट.. पतली कमर… 2 बारे बारे उभरे हुए बेहद हसीना चूतड़… सेक्सी रसीली चुत… मदमस्त फिगर… “36द-30-38”

जो देखे उसका लंड खड़ा हो जाए… सानिया का सबसे बड़ा दीवाना कोई और नहीं उसका अपना बेटा अमन है.
अमन के दिमाग में हमेशा एक ही बात घूमती रहती है की… सानिया आंटी को चोदने में कितना मजा आएगा… सानिया आंटी के हसीना पैरों को अपने कंधे पे रख के अपना 8.5 इंच का लंड उनकी रसीली चुत में डालने में कितना मजा आएगा…
सानिया आंटी की चुत को अपने वारया से भर के उन्हें सानिया आंटी बनाने में बड़ा मजा आएगा…
सोनिया ये जानती है की उसका बेटा उसे चोदना चाहता है…
ये बाद उस से छुपी नहीं है… उसका बेटा हर वक्त उसे भूखी नजरों से देखता है… वो इस बात से बेहद खुश है की 37 साल की उमर में भी कोई है जो उसका दीवाना है… ये सोचते ही उसकी चुत रस चोदने लगती है.. लेकिन ये और कोई नहीं बल्कि उसका अपना बेटा है.. भले ही वो कितना भी हॅंडसम और स्मार्ट है लेकिन है तो उसका अपना सगा बेटा. सानिया आंटी और अमन को एक दूसरे के लिए ऐसी सोच रखना गलत है. ये कानून और समाज के खिलाफ है. वो ये सोचती है की इस उमर में हर लड़के के साथ ऐसा ही होता है और वक्त के साथ साथ उसकी और उसके अमन की सोच बदल जाएगी…

अमन सुबह सो के उठता है और फ्रेश होने के बाद सिर्फ़ हाफ पेंट पहने अपने रूम से बाहर निकल के नीचे नाश्ता करने के लिए आता है. वहाँ वो अपनी सानिया आंटी को अगर स्टोव के पास नाश्ता बनाते हुए खड़ा पाता है.
वो वहीं खड़े खड़े सानिया आंटी की सेक्सी नंगी गांड को घूरने लगा.

सानिया इस वक्त बेहद सेक्सी नाइटी और हे हील स्लीपर में है. उसने जैसे ही अपने अमन को अपने जिस्म को घूरते देखा उसके जिस्म में एक सनसनी दौड़ गई. उसने प्यारी आवाज़ में अपने अमन से कहा.
सानिया : “गुड मॉर्निंग, स्लीपी-हेड.”
अमन : “मॉर्निंग, सानिया आंटी.”
वो आगे बढ़ा और अपनी सानिया आंटी के पास जाकर उसने अपनी सानिया आंटी को पीछे से गले लगा लिया.
अमन : ई लव यू सानिया आंटी…
सानिया ने पलट के अपने अमन को स्माइल दी और कहा ई लव यू 2 मेरे लाल.
वो अपने अमन के कड़क लंड को अपनी गांड के बीच में चुभते हुए महसूस कर रही है. उसे ये एहसास हो गया है की उसके अमन का लंड उसके पति के लंड से काफी बड़ा है.
सानिया : कल रात कैसी गुज़री…? तुम ठीक से सोए की नहीं…?
अमन : हाँ सानिया आंटी… मैं ठीक से सोया… क्या अंकल चले गये…?
सानिया : हाँ अभी कुछ देर पहले ही गये हैं…
सानिया ये जानती है की उसका अमन ये क्यों पूंछ रहा है…? उसके पति के सामने उसके साथ उसके अमन का बर्ताव कुछ और होता है… और उसके पति के जाते ही उसके अमन का बर्ताव बदल जाता है. उसका बेटा उसके साथ काफी छिपकने लगता है.
सानिया बुरा नहीं मानती. वो ये जानती है की उसका हॉर्नी बेटा इस वक्त उमर के बेहद कामुक दौड़ से गुजर रहा है और वो अपनी सानिया आंटी की मर्जी के बगैर कुछ नहीं करेगा.
अमन अपनी सानिया आंटी को अपनी बाहों में काश लेता है. उसका खड़ा लंड उसकी सानिया आंटी की सेक्सी गांड में घुसने लगता है.
वो अपना हाथ सानिया आंटी के पेट से उप्पर की तरफ सरकने लगता है जब तक उसके हाथ अपनी सानिया आंटी के बूब्स के निचले हिस्से तक नहीं पहुँच जाते.
अमन : ऊऊहह सानिया आंटी… “ई लव यू.”

सानिया अपना हाथ पीछे ले जा के अपने अमन के बालों में प्यार से घूमने लगती है और अपनी गर्दन घुमा के अपने अमन को देखती है.

सानिया : मुझे पता है मेरे लाल, मैं भी तुम्हें बहुत प्यार करती हूँ. तुम्हारी सोच से भी कहीं ज्यादा.
अमन : नहीं सानिया आंटी… तुम समझी नहीं… मैं.. मैं तुमसे बेहद प्यार करता हूँ.
सानिया अपने अमन की तरफ घूम जाती है और अपने अमन के होठों पे अपनी उंगली रख देती है.
“ई मीन…ई…ई
सानिया : “सस्स्शह!!! मुझे पता है की तुम मुझे कितना चाहते हो. तुम्हें मुझे ये बात समझने की कोई जरूरत नहीं है.
मुझे पता है की तुम्हारे दिल में इस वक्त क्या चल रहा है…
अमन : क्या सच में…?
सानिया : हाँ… और ये पर्फेक्ट्ली नॅचुरल है… तुम्हारी उमर के लड़के अपनी सानिया आंटी को इसी तरह से चाहते हैं और देखते हैं. मुझे बताओ की तुम कैसा महसूस कर रहे हो…?
अमन : मेरे कहा…याल से… जलन…..
सोनिया : जलन….!!! किस से…?
अमन : द… द… अंकल से…
सोनिया : तुम्हें अपने अंकल से जलन हो रही है… क्यों की मैं उनकी हूँ….?
अमन : हाँ… और शायद…शायद… मैं ये जानता हूँ की तुम्हें…. एक बच्चे की कितनी चाहत है… और…. और….
फिर खामोशी छा जाती है.
सानिया अपने अमन का हाथ अपने हाथ में लेती है और मुस्करा के उसकी आँखों में देखती है.
सानिया : “तो तुम्हें इस बात से जलन है की मैं बच्चा पैदा करने की कोशिश तुम्हारे अंकल के साथ कर रही हूँ तुम्हारे साथ नहीं…?”
अमन : “ई’में सॉरी, सानिया आंटी… मुझे पता है की मेरा ऐसा सोचना बेवकूफी है.”
सानिया : “ये बेवकूफी नहीं है, स्वीटी. तुम्हारी फ़ीलिंग्स एक दम रियल है. ये सच है की मैं और तुम्हारे अंकल 14 साल से कोशिश कर रहे हैं की एक बच्चा हो जाए… लेकिन हमारा बाद लक… बच्चा हुआ नहीं…
अमन : “14 साल” से…? क्या तुम्हारे साथ सब ठीक है…?
सानिया : मैं तो ठीक हूँ… मेरे अंदर कोई खराबी नहीं है…

सेक्सी रसीली सानिया आंटी को प्रॅगनेंट किया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *