महक की दुनिया 5

और दोनों एकदूसरे antarvasna को पागलो की तरह kamukta चूमने लगे कुछ देर बाद जब दोनों का आवेग ठंडा होने लगा …. तो उन्होंने देखा …. की पलंग पर मामी और सौम्या बड़े प्यारसे टकटकी लगा कर मामा भांजी का ये प्यार देख रही थी
मामी और सौम्यासे नज़ारे मिलते ही …. महकने शरमाकर अपना मुह मामाजी की सीने में छुपाया ….

अगली सुबह मामाजी अपने ऑफिस जा चुके थे
मामाजी निचे किचन में काम कर रही थी
महक और सौम्या ऊपर बैठी टाइम पास कर रही थी …….
सौम्या कुछ सोचती हुयी बोली
“यार महक ऐसा कैसे चलेगा ….. “
महक: अरे क्या कैसे चलेगा
सौम्या: यही ……उसने अपनी चूत की तरफ ऊँगली दिखाई
महक: अरे क्या हुआ …… जरा ठीक से बता ना
सौम्या: “अरी लेट करंट …… मैं चूत की आग के बारे में बात कर रही हु ….. ये तो बुझती ही नहीं ….बढती ही जा रही है
महक:हा यार …
सौम्या: और इसे बुझाने के लिए ….. हमारे पास फिलहाल तो एक ही लंड है…. मामाजी का …
महक: हा यार ….
सौम्या: और अब तो मामी जी भी अपना हिस्सा लेगी …. एक लंड और तिन चूत ….. कैसे बीतेंगी ….
महक: हा यार…
सौम्या ने झल्लाते हुए कहा “साली …. तबसे हा यार.. हां यार कर रही है ….. मै क्या कोई …कथा बाच रही हु ?
महक को उसकी झल्लाहट पे हसी आ रही थी वो हसते हसते बोली : हा यार….
सौम्या ने महक के निप्पल्स पकड़ कर मरोड़े और बोली ….. साली मुझे चिढाती है …..
महक: आह ….सौम्या …. छोड़ ना दुखता है रे ..
सौम्या: तो बोल साली अब फिरसे चिढायेगी……. बोल ..
महक:: सॉरी यार ….. मै तो बस मजाक कर रही थी …
फिर वो दोनों सीरियस होकर बैठी और उस उलझन के बारे में सोचने लगी
सौम्या: यार कमसे कम एक और लंड चाहिए हमें …..
महक :हा यार …… मामाजी का एक लंड हमारी तीनो के लिए काफी नहीं होंगा
सौम्या: क्या करे …… साली रिया भी तो नहीं है …….वो होती तो कुछ ना कुछ सोचती …. महक: चल उसे कॉल करते है ……. उसका क्या चल रहा है ये भी जान लेंगे ….
सौम्या:ओके चल…. कॉल कर उसे ….
महक में रिया को कॉल लगाया …..
पूरी बेल जाने पर भी उसने उठाया नहीं …
महक:नहीं उठा रही …
सौम्या:फिर से लगा …
महक ने फिर कॉल लगाया
फिर से नो रिप्लाय
सौम्या भड़क गयी थी
उसने और दो बार रिया को कॉल किया
फिर से नो रिप्लाय आया …तो उसने मैसेज में कुछ टाइप किया और सेंड कर दिया …
सौम्या: अब देखना महक …….. मेरा मैसेज पड़ते ही गोली की तरह फ़ोन करती है की नहीं …..
महक: ऐसा क्या लिखा तूने …..
सौम्या: मैंने लिखा की १० मिनट में अगर उसने कॉल नहीं किया तो मैं महक के साथ तेर घर आ जाउंगी …..
महक: हा …….वो तो अपने भाई के साथ लगी होगी ना …..वो हमारा वहा जाना अफोर्ड नहीं कर सकती …..
सौम्या: हु….. इसलिए तो ऐसा मैसेज भेजा है …..
पाच मिनिट में ही रिया की कॉल आ गयी
रिया:हेलो
महक: हा बोल रिया
रिया:उस साली सौम्या को दे तो जरा …….
महक ने फ़ोन सौम्या को सौप दिया
सौम्या ने जैसे ही हेलो बोला …. उधर से रिया बरस पड़ी
रिया: क्या हुआ मेर माँ …उफ्फ्फ .. क्यों परेशान कर रही है ……अआह्ह …
सौम्या: रिया बेबी ….. एक अर्जंट काम था …
रियाने सौम्या की बात बिचमे ही काट दी
रिया: ऐसी……आःह्ह ….. कौनसी …..ऊऊह्ह ….. आ…ग …. आआअह्हह्हह ..लग गयी …..
सौम्या: रिया क्या हुआ …. तू ऐसे क्यों बात कर रही है …… ओह्ह माय गॉड ….. रिया तू चुद रही क्या इस वक्त ?
रिया: हा ….रे ……..
सौम्या: वॉव …. सबेरे सबरे …….
रिया: हा रे रात को मम्मी वापस आने वाली ……उफ्फ्फ …. है …..तो कल रात से ……आः अआह्ह्ह … लगे है ……
महक भी कान लगा कर सुन रही थी …….. रिया की हालत जान कर दोनों की चूत कुलबुलाने लगी थी …
सौम्या: कैसे चुद रही हो ……
रिया: कैसे ….. मतलब
सौम्या: मतलब तू ….ऊपर है या निचे ?
रिया: निचे …
सौम्या: क्या तेरा भाई सुन रहा है ….
रिया: वो पीछे है …… फिर भी मुझे तो तुन तो रहा है ….
सौम्या: याने …….वो तेरी गांड मार रहा है …….
रिया: नहीं …… नहीं ….. वो …..
सौम्या: ओह्ह्ह…. तो पिछेसे चूत में झटके मार रहा है …..
रिया:हा यार …… उफ्फ्फ
महक और सौम्या के आखों के सामने रिया की चुदाई की तस्वीर तैर गयी …..