महक की दुनिया 11

अत्याधिक आनंद से antarvasna सौम्या की आँखे बंद हो kamukta गयी वो आँखे मूंदे अपने मुह चुदाई का मजा ले रही थी कुछ देर ऐसेही मजा लेने के बाद सौम्या ने सोनू ले लंड को जड़ तक अपने मुह में लिया …
और जोर जोर से चुसने लगी ….. जैसे लंड से कुछ निकालने की कोशिश कर रही हो ……
सौम्या इस अप्रत्याशित हमले से सोनू भी सिसक उठा ……
स्स्सस्स्स्सस्स्स ….ह्ह्ह्हह …..
सौम्याने पूरी ताकत से चुसना जारी रखा ……
सोनू को यह जबरदस्त चुसाई ……बर्दाश्त के बहार होने लगी ….
वो उठने की कोशिश करने लगा ……
लेकिन वो जैसे ही थोडा उठता ….. सौम्या और जोर लगा के चूसती थी …
और सोनू फिर निचे गिरता …..

ऐसा एक दो बार होने के बाद ….
अचानक…. सोनू की नजर बाजू में बैठी महक पे पड़ी …. उसे झटका लगा …… वो सोचने लगा …..
की महक इधर है …. तो मेरा लंड कौन चूस रहा है …….
उसे इस असमंजस में पडा देख कर महक मुस्कुराने लगी
आखिर सोनू ने उसे पूछा …….
सोनू:महक ….. ये कौन है …..
महक: क्यों …. भूल गए ….. इसके नर्म होठो को ……
सोनू : कौनसे …नर्म होठ ….
महक : तो खुद ही देख लो ना …. कौन है …ये
सोनू ने थोडा उचक कर निचे देखा …
घने बालो की वजह से उसे सौम्या का चेहरा दिख नहीं पाया ……
तभी सौम्याने अपने बाल हटाकर उस की ओर देखा ……
उसे देखते ही ….सोनू को और एक बडा झटका लगा ….
वो हकलाते बोला……
सोनू: सोऽऽ सौऽऽऽऽम्याऽऽ जी …. आप ….
सोम्या ने उसका लंड मुहसे बहार निकला और …. हस के बोली
सौम्या: हां …. सोनू भय्या …. मै ….
सोनू: पर …. आप …. तो …
सौम्या: अभी कुछ मत कहो सोनू भय्या ……. पहले मुझे मेरा काम करने दो ….. फिर ..आपके हर सवाल का जबाब दे दूंगी ……
सोनू का सर धम्म से गद्दे पर गिरा…
सौम्या ने महक को इशारे से पास बुलाया ….
और दोनों लडकिया भूखी बिल्लियों की तरह सोनू के लंड पर टूट पड़ी
अब महक लंड को मुह में लेकर चूस रही थी
और सौम्या ने थोडा निचे खिसक कर सोनू की आंड अपने मुह में ले लिए …

दो ..दो ..जोड़ी मुलायम होठो को अपने लंड पर पा कर सोनू तो जैसे सातवे आसमान पर पहुच चूका था …..
और ये दो लडकिय भी जी जान से उसके लंड की चुसाई में लगी थी ….
उन दोनों की मेहनत जल्द ही रंग लायी ……
सोनू …. जोरो से आहे भरने लगा …