बहन की सहेली की चुदाई

दोस्तों, Antarvasna मैं 5 फीट 6 इंच का हूँ ओर मेरे लंड का साइज 7.5 इंच है. मेरे लंड के अंदर किसी भी लड़की, कोई भी आंटी, कोई भी भाभी को चोद कर संतुष्ट करने का मजबूत माद्दा है ओर जॉब ही मेरे साथ एक बार चुदाई कर ले, वो बार-बार मेरे साथ चुदना चाहता है. वैसे मैं इस वेबसाइट पर नया हूँ ओर आज मैं अपनी कहानी शेयर करने जा रहा हूँ.

बात उन दीनों की है, जब मैं 18 साल का था, मेरे घर मैं मेरी बहन की सहेली आती थी.. जिसका नाम दीपा था, उसकी उमर भी 18-19 साल ही थी ओर उसका फिगर 30-34-32 का था. वो मेरे ही कॉलेज मैं पढ़ती थी.. उस पर बहुत से लड़के मरते थे, क्योंकि वो थी ही बहुत हॉट और सेक्सी.

वो मेरे दोस्त की बहन की ननद भी लगती थी. इस बहाने उससे मज़ाक हो जाता था.

एक दिन वो मेरे घर आई हुई थी ओर उस समय मेरे घर मैं कोई नहीं था, सभी बाहर गये हुए थे.

मैं भी अपने बेडरूम मैं सो रहा था.

वो मेरे पास आई.. उसने मुझे जगाया ओर पूछा- घर के सब कहा गये है?

तो मैंने बता दिया- सब बाहर गये हुए है.

फिर वो मेरे पास बिस्तर पर बैठ गयी ओर हम दोनों बातें करने लगे. वो बताओ ही बताओ मैं मुझसे पूछने लगी- तेरी कोई गर्लफ्रेंड है क्या?

मैंने मज़ाक मैं बोला- मेरी गर्लफ्रेंड कोन बनेगी?

वो बोली- क्यों, तुझ मैं क्या बुराई है?

मैंने भी उससे बोल दिया- फिर तुम बनोगी मेरी गर्लफ्रेंड?

वो मुस्कराने लगी ओर चुप हो गयी.

मैंने उसका हाथ पकड़ लिया ओर अपनी तरफ खींचा, वो मुझसे छूटने की कोशिश करने लगी ओर बोली- तुम क्या करना चाहते हो?

मैंने बोला- बस तुम्हें प्यार, ओर कुछ नहीं.

वो बोली- नहीं, मुझे ये सब पसंद नहीं है, मुझे छोड दो.

मैंने उसे एक किस किया ओर प्यार से समझाया- देखो आज मेरे घर मैं कोई नहीं है, ओर ये मौका कभी दुबारा नहीं मिलेगा.

फिर भी वो इनकार कर रही थी, पर अब उसका ‘ना’ पहले से कम था.

मैं बोला- क्यों, डरती हो तुम, ये सब हम दोनों के बीच ही रहेगा..

वो बोली- मैंने ये सब पहले कभी नहीं किया है.

मैं बोला- मुझे सब आता है, मैंने बहुत पॉर्न वीडियो देखे है, प्लीज़ मान जाओ, मैं तुम्हें बहुत मजा दूँगा.

मैंने उसे खींचा तो इस बार उसने मेरा कोई विरोध नहीं किया. मैं उसके होठों के मद भरे रस को चूसने लगा था. वो भी जरमेन लगी. मैं उसे अपनी बांहों मैं समेटते हुए बोला- क्या मेरा प्यार पसंद नहीं है?

वो बोली- पसंद है, पर डर लगता है..

फिर मैंने उसे कुछ सेक्स वीडियो दिखाए, जिससे वो ओर भी अधिक चुदासी हो गयी.

वो पहले भी सेक्स वीडियो देख चुकी थी ओर बोली- इसमें दर्द होता है ना.. वीडियो मैं लड़कियाँ बहुत चीखती है.

तो मैंने उससे बोला- उसकी वीडियो बनाना होता है.. इसलिए ऐसा करती है.. पहली बार है ना.. जब अंदर लाओगी तो खुद ही जान जाओगी रानी..

मैंने उसके कपड़े निकल दिए ओर अब वो सिर्फ़ ब्रा ओर पैंटी मैं थी. मैं उससे बोला- तुम बहुत खूबसूरत लग रही हो.

मैंने उसे खूब चूमा, इस बार वो मेरा पूरा साथ दे रही थी. अब मैंने उसकी ब्रा ओर पैंटी भी निकल दिए.

मैं उस दिन पहली बार किसी लोंड़िया को नंगी देख रहा था, उसकी गुलाबी चुत पर बहुत ही हल्की हल्की झांटे थी.. शायद उसने चुत के बालों की शेव 15 दिन पहले की होगी, मैं उसकी चुत को देखता ही रही गया ओर वो शरमाते लगी.

अब मैं पूरा गरम हो चुका था ओर मैंने भी अपना आंडरवेयर निकल दिया.

गर्मी का मोसां था, मैं पहले से ही आंडरवेयर के सिवाय कुछ पहने नहीं था. अब वो मेरा 7.5 इंच का लंड देख कर घबरा गयी ओर नाटक करने लगी.
मैंने उसे बांहों मैं लिया ओर उसके मम्मो को मसलने लगा ओर एक हाथ से उसकी चुत को सहलाने लगा.. इससे वो पागल होने लगी.

मैंने उसे लंड चूसने को कहा, तो वो मना करने लगी, मैं भी चुत चोदना चाहता था ओर मैं भी चुदाई के लिए भूखा था, सो मैंने उससे कुछ नहीं कहा. अब मैंने थोड़ा सा थूक उसकी चुत पर लगाया ओर फिर चुत को उंगली से सहलाया, वो बहुत हॉट हो चुकी थी.

फिर मैं अपना लंड उसकी चुत पर रगड़ने लगा ओर अब वो पागल सी होने लगी.

वो सिसक कर बोलने लगी- हाय.. बर्दाश्त नहीं हो रहा है.. प्लीज़ डालो भी.. सताओ मत अब.. मैं मर जाऊंगी..

तो फिर मैं अपना लोड्‍ा उसकी बुर् मैं डालने लगा.. पर लंड अंदर जा ही नहीं रहा था.. वो सील पैक माल थी.

मैंने ज़ोर से फिर से कोशिश की ओर फिर उसकी चुत पर थोड़ा सात एल लगाया, ओर उससे बोला- थोड़ा दर्द होगा.. चिल्लाना मत..

उसने कहा’हाँ’ बोल दी, पर बोली- धीरे करना प्लीज़.

मैं बोला- ठीक है..

फिर मैं एक ज़ोर का धक्का मारा ओर थोड़ा सा लंड अंदर चला गया.

वो चीख पड़ी. मैंने हाथों से उसके मुंह को बंद किया ओर थोड़ी देर रुक गया. फिर मैं अपने चूतडो को हिला कर धीरे धीरे धक्के देने लगा. अब मेरा आधा लंड उसकी चुत मैं घुस चुका था ओर वो दर्द से तड़प रही थी- निकल लो प्लीज़,, मैं मर जाऊंगी.. आ.. आ… उऊओह मुझे मर ही डालोगे क्या?

फिर उसके होठों की अपने होठों से दबा लिया ओर मैं उसे चूसने लगा. इससे वो अब शांत भी हो गयी.. ओर अपना दर्द भी भूलने लगी. फिर मैं एक ओर ज़ोर का धक्का मारा तो अबकी बार पूरा लंड उसकी चुत मैं घुस चुका था.

उसकी एक तेज चीख निकल गयी.. उसकी चुत फट चुकी थी.. मैं कुछ देर रुक कर फिर उसे चूमने ओर सहलाने लगा जब वो कुछ रिलॅक्स हुई तो मैं धक्का देने लगा.

अब वो थोड़ा मस्ती मैं आ चुकी थी- ‘आआआअ… अहह..’ अपनी चुत को खुद ही लंड मैं अंदर बाहर करवा रही थी. ‘अओउुउऊहह.. हह मजा आ रहा है..’

मैं ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा.. उसे भी मजा आने लगा था.

लगभग 15 मिनट की चुदाई के बाद.. मेरा लंड झड़ने वाला था.. तब तक वो दो बार झाड़ चुकी थी.. मैंने उसकी चुत से लंड निकाला ओर बाहर झाड़ गया… सारा पानी उसके पेट पर छोड दिया ओर उसे बड़ा सा चुंबन किया. मैं उसके ऊपर निढल हो कर लेट गया ओर फिर हम थोड़ी देर बाद उठे ओर अब वो भी पूरी तरह से ताकि लग रही थी.

फिर भी मैंने उसे दुबारा गरम किया ओर उसके मम्मो को मसलने लगा. वो अभी चुदने के लिए तैयार नहीं थी, लेकिन फिर भी मैंने उसे मनाया ओर उसे लंड को हाथ मैं हिलने को बोला.

फिर जब लंड पूरा टाइट हो गया, तो मैंने उसे कुतिया बनने को कहा, फिर मैंने उसे कुतिया जैसे बना कर उसकी चुत मैं पीछे से अपना लोड्‍ा पेल कर 10 मिनट तक चोदा.. उसके बाद मैं बिस्तर पर लेट गया ओर उसको मेरे ऊपर आकर चुदने को कहा.

10 मिनट उसको अपने लंड पर झूला झूलते हुए ओर चोदा ओर अब वो बहुत मस्त हो चुकी थी ओर चुदाई का मजा ले रही थी.

उसके दूध खूब ज़ोर ज़ोर से हिल रहे थे मैंने उसके दूध खूब मसले जिससे उसकी चुत मैं बार बार से रस झाड़ जाता था.

उसको चोदते चोदते पता ही नहीं चला, की कब 2 घंटे हो गये, झड़ने के बाद वो थोड़ा खुश लग रही थी ओर बोली- रवि मैं पहली बार सेक्स करना चाहती थी.. पर डर लगता था, मैं तुमसे प्यार करती थी, लेकिन कभी कुछ कह नहीं पति थी ओर ना ही तुम मुझे कुछ बोलते थे.

मैं बोला- अब तो हम तुम्हारे बाय्फ्रेंड है,, जब भी चुदने का मान हो.. तो बता देना..

फिर हम लोगों ने कपड़े पहने ओर मैंने उसे फिर से बांहों मैं लिया.

वो बोली- अब जाने दो, जब भी मौका मिलेगा, तो फिर आ जाऊंगी.

उस दिन के बाद, मैंने उसे कई बार चोदा ओर भी बहुत सी लड़कियों ओर भाभी के साथ चुदाई की है.