मेरी पहली चुदाई

मेरा नाम सुधा है. मैं अलीगढ़ मे पेरेंट्स के साथ रहती थी, मेरे एक छोटा भाई एक बहन सौतेली आंटी और अंकल रहते थे. अंकल बिज़्नेस करते थे, उनको घर के बाहर जाने का काम भी ज्यादा ही पड़ता था.कई दिन मे लोटते थे.

read more

पूजा – हमारी प्यारी नौकरानी

वो हमारे यहां कई सालो से काम करती थी और बोहोत ही अच्ीी थी. मेरी उनके बारे मैं कभी गलत सोच नहीं थी. इंजिनियरिंग मैं वैसे भी मैं ज्यादा क्लासस अटेंड नहीं करता था और दिनभर पीसी के सामने गेम्स खेलता और पॉर्न देखते रहता था. आंटी दोपहर को 2 बजे आती…घर का काम 1-2 घंटे मैं खत्म करके चली जाती. यही रुटीन था.

read more

मेरा बाय्फ्रेंड- My boyfriend – 4

मेरा बाय्फ्रेंड- My boyfriend – 4

मैंने रूम पर आकर मेसेज किया की में आ गई और वो चला गया फिर…
नेक्स्ट डे उसने कॉल किया मुझे और बताया की वो आज बिज़ी रहेगा तो रात में बात करते है..मैंने कहा ओके..

फिर रात में 12.30 बजे उसकी कॉल आई..
राहुल-सो गई थी क्या
में-हां बस लेती थी
राहुल-और बता आज क्या किया
में-नतिंग यार कॉलेज गई और आ गई
राहुल-आस जैसे और कुछ किया ही नहीं
में-तो और क्या करूँगी
राहुल-अच्छा तो मैंने जो टॉप दिलाया था वो आज क्यों पहना था
में-क्यों तो नहीं पहन सकती क्या
राहुल-हां तो पहन ना..किसने मना किया है..
फिर हमर बातें चलती रही रात के 2 बजे तक..
में-यार अब नींद आ रही है..(मुझे अपनी नींद सच में बहुत प्यारी है)
राहुल-अरे सो जाना यार थोड़ी देर और कर ले..अच्छा ये बता अभी क्या पहना है तूने..??
में-कुछ नहीं(मैंने गुस्से में कहा)
राहुल-क्य्ाआआआआ सच में शिखा???????????
में-नहीं रे नाइटी पहनी हे मैंने..
राहुल-तो क्यों पहनी है..
में-तो क्या नहीं पहनु..
राहुल-तू बिना कपड़ों के ज्यादा सेक्सी लगती है..हे हे हे
में-हां तो क्या बिना कपड़ों के घूमू..
राहुल-हां क्यों नहीं शादी के बाद ऐसे ही घुमूँगा अपने रूम में..
में-अच्छा पागल हो क्या..मुझे सोना है बायें..
राहुल-अरे अरे रुक तो..अच्छा ये बता अंदर कुछ पहनती हे क्या रात को..
में-हां वही ब्रा पेंटी..तुम्हारी फवर्ट..हे हे हे
राहुल-हां मुझे तू उसी में अच्छी लगती है..
में-हम पता है..
राहुल-अच्छा तू कॉलेज में वो टॉप पहन के गई थी तो लड़के तो घूर रहे होंगे तुझे..
में-हां उनका क्या घूरते रहते है..
राहुल-ऐसा नहीं हे हम सिर्फ़ सेक्स लड़कियों को घूरते है..
में-हां पता है ठरकी बॉयससस्स..
राहुल-ले बता ना घूर रहे थे क्या
में-हां यार बार बार साइड से निकल रहे थे..पता नहीं क्यों..
राहुल-अरे तेरे ब्रेस्ट देख रहे होंगे कमीने..चल बेटा उनकी बात हटा..तू ये बता की तू मुझसे कितना प्यार करती है..
में-बहुत बेटा…
राहुल-तो तू अभी मेरे लिए एक काम करेगी क्या जान..
में-हां बेटा बोलो ना
राहुल-हम चल कल बताऊंगा..

read more

प्यारी भांजी – Hindi Story

हेलो फ्रेंड्स आप का राजकुमार एक बार फिर आप लोगों की खिदमत में न्यू स्टोरी के साथ हाज़िर है, सब से पहले तो थॅंक्स मेरी पिछली स्टोरी को पसंद करने के लिए, ई-मैल में जिस तरह आप ने मेरी स्टोरीस पसंद करी हैं उस से मुझे और लिखने का हौसला हो सका है. ये स्टोरी मारे दोस्त अजय की है जो लास्ट 5 एअर पाले उस के सात हुई थी. तो स्टोरी अजय की ज़बानी

read more

शीना सेलेज़्गर्ल, मेरी भाभी और वो

मैं: भाभी ज़रा ध्यान से बैठना, रिक्शे में बहुत झटके लगते हैं. आपको तो आदत नहीं होगी.
भाभी: ओके.
मैं: लाओ रिंकी को मुझे पकड़ा दो.

उससे पकड़ते हुए अनजाने में मेरा एक हाथ भाभी के बूब पे टच हो गया. पर भाभी ने रिएक्ट नहीं किया. हो सकता है उन्हें पता ना चला हो. 5 मिनट. में हम माल के बाहर पॉंच गये. मैं रिक्शे वाले को पैसे देने लगा तो भाभी ने कहा रुको मैं देती हूँ. मैंने सोचा रिक्शे वाले को क्यों दे रही हो, देनी है तो मुझे दे दो.

read more

भाभी की शॉपिंग, मेरी भाभी और वो

चाय पे के मैं घर वापस आ गया. मैंने मोबाइल चेक किया तो वेट्स आप पे श्रुति का मेसेज आया हुआ था.
श्रुति: ही!
मैं: ही, हाउ आर यू?
श्रुति: बारे लोग, इतनी देर में रिप्लाइ करते हैं.
मैं: अरे ऐसी कोई बात नहीं है, ई हद गॉन सम्वेर.
श्रुति: ओके. यार तुमने क्या एक्साइज करवाई हैं, पेन हो रहा है मुझे.
मैं: ओह, कहाँ पेन हो रहा है?
श्रुति: कहाँ क्या? पूरी बॉडी पेन कर रही है.
मैं: डॉन’त वरी. 2-3 दिन पेन रहेगा फिर ठीक हो जाएगा. एक्साइज स्टार्ट करने पे सब को होता है.
श्रुति: मतलब 2-3 और दर्द सहना पड़ेगा?
मैं: वैसे एक सल्यूशन है.
श्रुति: क्या?
मैं: मैं आ के मसाज कर देता हूँ, बहुत आराम मिलेगा.
श्रुति: किसे? मुझे या तुम्हें?
मैं: ऑफ कोर्स तुम्हें.
श्रुति: थॅंक्स लेकिन नो नींद. मैं खुद मसाज कर लूँगी.
मैं: अरे खुद ठीक से नहीं होगी. इट हंस तो भी डन इन आ प्रॉपर वे.
श्रुति: अच्छा जी! आपको बड़ा एक्सपीरियेन्स है मसाज का.
मैं: हाँ मैं पहले थाइलॅंड रहता था.
श्रुति: तो वापस क्यों आ गये यहाँ?
मैं: तुम्हें ट्रेन जो करना था. और फिर तुम्हारी मसाज करनी थी.
श्रुति: डेठ’से सो नाइस ऑफ यू. थॅंक्स लेकिन नो थॅंक्स!
मैं: और बताओ क्या कर रही थी?
श्रुति: कुछ खास नहीं ऐसे ही टाइमपास.
मैं: एक काम करना.
श्रुति: बोलो.
मैं: अपनी मेजर्मेंट ले के एक पेपर पे नोट कर लेना विद डेट ताकि बाद में पता चल सके कितना फर्क पड़ा है.
श्रुति: मेजर्मेंट मतलब.
मैं: जैसे फिगर की मेजर्मेंट लेते है लाइक 36-24-36.
श्रुति: ओह ओके.
मैं: समझ गयी या डीटेल में समझोउ.
श्रुति: नहीं नहीं. नो नींद, मैं समझ गयी.
मैं: समझदार हो.
श्रुति: बचपन से.
मैं: मज़ाक अच्छा कर लेती हो.
श्रुति: चुत उप. चलो ठीक है बायें. मुझे कुछ काम है.
मैं: ओके बायें.

read more

वो तो मैं थी, मेरी भाभी और वो

मैं: लेट’से स्टार्ट विद सेम बेसिक एरोबिक्स एक्सर्साइज़स जो तुम्हारी कंप्लीट बॉडी पे वर्क करेंगी. एक वीक तक तुम्हारी बॉडी थोड़ी खुल जाएगी तो हम इंडिविजुयल बॉडी पार्ट्स की एक्साइज शुरू करेंगे.
श्रुति: ओके!

read more

मेरे हिप्स पे बहुत फेट हैमेरी भाभी-11

थोड़ी देर बाद मैं पानी पीने के लिए किचन में आया तो मुझे बाहर से कुछ आवाज़ आई. मैंने बाहर जा के देखा तो अंकुर ने अपनी बेटी को एक हाथ में पकड़ा हुआ था और दरवाजे को ताला लगा रहा था और भाभी स्टेरकेस एंटर कर रही थी. मैंने भाभी को देखा तो देखता ही रही गया. क्या लग रही थी यार! सर से पॉ तक कायामात! पचान ना मुश्किल हो रहा था की यह वही भाभी है जो दिन मैं अपने घर में सिंपल सी बन के रहती है. भाभी ने एक टाइट सूट पहना हुआ था और काफी मेकप भी करा हुआ था. लग रहा था की किसी शादी में जा रहा है. मैं तो बस आंखें फाड़ के उन्हें देख रहा है. यकीन नहीं हो रहा था मुझे. मेरी आंखँ उन्हें गली के और तक छोरे बिना नहीं मुड़ी. जब वो चली गयी तो मुझे होश आया और मैंने सोचा की यह क्या मेरे तो घर से सामने ही एक टोत्टा है और मैं बाहर ढूंढ. रहा हूँ. मैंने अपनी ‘तो दो’ लिस्ट में एक और नाम आड कर दिया. बाहर बहुत माक्चर थे तो मैं अंदर आ गया और भाभी के बारे में सोचने लगा. मैंने सोचा की भाभी है तो बहुत खूबसूरत और फिगर भी अच्छी है फिर घर पे इतना सिंपल बन के क्यों रहती है? मैंने कहा चलो कोई नहीं अब इस बारे में भी कुछ करना पड़ेगा.

read more

फौजी ने किया मेरा बलात्कार

फोजी ने किया मेरा बलात्कार- Foji Ne Kiya Mera balatkaar

यह स्टोरी उस वक्त की है जब मेरी आगे 18 साल चोदा साल थी मैं आयेक दिन घर से नाराज़ हो कर चला गया मैं सारा दिन सदर मैं घूमता रहा शाम को मैं बस मैं बैठ कर कंत्त स्टेशन चला गया बस मैं आयेक मोटा ताजा आदमी जिस की आगे 40 साल हो मुझको घोर से देख रहा था उस वक्त मैं चिकना भी बहुत था अक्सर लोंदे बाज़ मेरी पीछे पड़ी रहती टाइट कुछ देर बाद वो मेरी पास आकर बैठ गया और पूछनी लगा कहाँ जा रही हो मैं ने कहा स्टेशन जा रहा हूँ उस ने कहा स्टेशन क्या करणुय जा रही हो मैं ने कहा वेसी ही घूमनी उस ने बहुत हिपयर से मेरी गाल पर हाथ फार्ती हूी कहा रात को वहाँ क्या करो गे

read more

नीतू की सील तोड़ी

आज से 2 साल पुरानी है जब में 18 साल का था ओर में तमिलनाडु से
राजस्थान अपने घर गया था मेरे घर के सामने एक खूबसूरत लड़की रहती
है जिसका नाम नीतू( नाम चेंज्ड) है ओर तब वो 18 साल के थी में उससे
1 साल बाद मिलने वाला था तो खुश भी बहुत था उसके घर पे उसकी आंटी ओर
उसका एक छोटी भाई ओर दो बहने रहते थे ओर नीतू के अंकल दूसरे शहर
में नौकरी करने जाते थे सो वो साल में एक दो बार हे घर आ पाते थे ओर
नीतू के छोटे भाई बहन भी कॉलेज जाते थे ओर उसके आंटी उसके दादी के
घर पे हे रहती थी नीतू के दादी का घर कस्बे से थोड़ा दूर था तो वो
सुबह 10 बजे घर से लिकल जाती थी ओर सेम को 8,9 बजे ही वापस आती
थी तो नीतू पूरे दिन घर पे अकेली हे रहती थी
में सुबह 5 बजे अपने घर पहुंच गया ओर समान अंदर रख के नहाने चला गया नहा
ने के बाद मैंने नाश्ता किया ओर अंदर जाकर सो गया क्यों के बहुत लंबा
सफ़र करके आया था तो बहुत तक गया था
सेम के 5 बजे मेरी
आंख खुली तो में घर से बाहर आया तो देखा नीतू घर के बाहर जादू
लगा रही थी उसने ब्लैक कॉलर का टॉप ओर ब्लू कॉलर का जींस पहना हुआ
था उसे देखते ही मेरा लंड खड़ा हो गया उसका फिगर 32-28-30 होगा में
उससे मिलने चला गया में उसके आगे जाकर खड़ा हो गया तब उसने ऊपर देखा
ओर मुझसे कहा तुम कब आए मैंने कहा सुबह 5 बजे तो उसने कहा इतने देर
कहा थे तो मैंने कहा में सो रहा था कहा तो उसने कहा ठीक है तुम
अंदर जाकर बैठो में अभी जादू निकल के आती हूँ ओर में अंदर जाकर बैठ गया
वो जादू निकल के मेरे पास आई ओर बोली के किया लोगे कोफ़ी या चाय तो
मैंने मना कर दिया तो उसने कहा इतने दीनों बाद आए हो कुछ तो लेना पड़ेगा
नहीं तो में नाराज़ हो जाऊंगी तो मैंने कहा कोफ़ी हे लेलो ओर वो अंदर गई ओर
कोफ़ी बनकर लेकर आ गई फिर हम दोनों ने कोफ़ी पे तभी उसका भाई स्कूल
से घर आ गया ओर में रहा से अपने फ्रेंड से मिलने निकल गया मेरे
फ्रेंड के पास ब्लू मूवी के दी अभी दी थी तो हम ने उन दी अभी दी को देखना शुरू
किया ओर नीतू के बारे में सोचने लगा तभी मुझे एक आइडिया आया मैंने मूवी
देखने के बाद अपनी घर पे चला गया ओर खाना कहा के सो गया
सुबह
उठा तो 9 बज चुके थे तो में नहा के खाना खाने बैठ गया खाना खाया
तब तक 10 बज चुके थे फिर में अपने फ्रेंड के घर गया ओर मूवी देखने
लगा ओर 11 बजते हे मैंने ब्लू मूवी के दी अभी दी फ्रेंड्स के पास से ले ओर
अपने आंडरवेयर में डाल दे डीवीडी मेरे लंड से चिपकी हुई थी ओर में सीधा नीतू
के घर चला गया नीतू घर पे अकेली थी ओर टीवी देख रही थी मुझे
देखते ही उसने अंदर आने को बोला में अंदर गया ओर डीवीडी को थोड़ा ऊपर किया
ताकि बैठने में आसानी हो ओर नीतू ने मुझे यह करते रक्त देख लिया ओर
पूछा यह किया है तो मैंने कहा डीवीडी है तो उसने कहा किस के तो मैंने कहा
मूवी है तो उसने वो डीवीडी मेजाइ तो मैंने कहा यहे डीवीडी तुम्हारे देखने के
नहीं है फिर भी उसने ज़बरदस्ती कर के रो डीवीडी ले ली ओर डीवीडी प्लेयर में
डाल के स्टार कर ले ओर जैसे ही आगे सेक्स करते हुए लड़का ओर लड़की आए तो
उसने मेरी तरफ देखा ओर कहा तुम यह सब कब से देख रहे हो मैंने कहा 3
साल से तो उसने कहा कभी किसी लड़की के साथ सेक्स किया है मैंने कहा अभी
तक मौका नहीं मिला तो उसने मूवी स्टार के ओर देखने लगी ओर मेरा लंड भी
बिलकुल टाईट हो गया था रो देखते देखते गरम हो गई थी ओर धीरे से
रो मेरे पास आई ओर मेरे पैंट के ऊपर से हे मेरे लंड को पकड़ के
दबाने लगी फिर उसने मेरे पैंट का बटन खोला ओर फिर मेरे पेंट के जीप
भी खोल दे ओर मेरे आंडरवेयर में हाथ डाल दिया मुझे एकदम से झटका लगा
क्यों के मेरा लंड आज तक किसी ने नहीं पकड़ा था उसने मेरे लंड को पकड़
के बाहर निकाला ओर बोली बाप रे इतना बड़ा लंड है तुम्हारा मैंने कहा हां
फिर रो झुक गई ओर मेरे लंड को हाथ से साफ करने लगी ओर फिर उसने लंड
को मुंह में ले लिया ओर मेरे पूरे शरीर में बिजली से दौड़ने लगी मुझे बहुत
मजा आ रहा था ओर उसने मेरा पूरा लंड मुंह में ले लिया ओर चूसने लगी मुझे
बहुत मजा आ रहा था ओर गुदगुदी भी ओह रही थी जिससे में 3 4 मिनट में ही
झड़ गया ओर पूरा पानी उसके मुंह में ही निकल गया उसने पहले तो कुछ अजीब
सा फेस बनाया ओर फिर पानी गटक लिया ओर फिर से मेरे लंड को चूसने लगी
ओर अब में भी उसके बूब्स दबाने लग गया उसके बूब्स थोड़े टाईट थे में जब
भी ज़ोर से दबाता वो सिख पड़ती ओर मुझे उसके बूब्स दबाने में बहुत मजा
आ रहा था उसने मेरे लंड को 5 मिनट तक चूसा ओर खड़ी हो गई ओर मुझे
भी खड़ा होने को बोला ओर में भी खड़ा हो गया ओर उसने मेरा पेन उतार
दिया ओर मैंने भी उसका टॉप उतार दिया उसने अंदर इंतेज़ार कॉलर के ब्रा पहनी
हुई थी मैंने उसके बूब्स को ब्रा के ऊपर से ही दबाने लग गया ओर वो
सिसकियां लाइन लगे ओर मुझे रुकने को बोला में रुक गया तो उसने मुझे बोला
प्ल्ज़्ज़ थोड़ा धीरे दबाओ मुझे दर्द होता है फिर मैंने धीरे धीरे दबाने
लगा ओर वो सिसकियां लेने लगीसके मुंह से अया आ उम्म्म के आवाज़ आ रही
थी ओर 2 से 3 मिनट बाद मैंने उसकी ब्रा भी उतार दे उसके बूब्स लाल हो चुके
थे ओर उसके निपल्स का कॉलर भी लाइट कोफ़ी जैसा था मैंने उसके लेफ्ट बूब्स
को हाथ से दबाया रो बहुत सॉफ्ट थे मैंने उसके लेफ्ट बूब्स को मुंह में लेकर
चूसने लगा ओर वो मेरे सर उसके बूब्स पे दबाने लग गई ओर उसके मुंह से
अयाया अया के आवाज़ आने लगी मैंने अपने दूसरे हाथ से उसके दूसरे बूब्स
को भी दबाने लगा ओर वो सिसकियां लेने लगी 3 से 4 मिनट उसके बूब्स को चूसा
ओर फिर मैंने उसके पैंट का बटन ओपन करके जीप को खोला ओर उसके पैंट
को उतार दिया उसने अंदर भी व्हाइट कॉलर के पैंटी पहनी थी ओर वो पूरी
गीली हो सुखी थी मैंने उसकी आंडरवेयर उतरी तो देखा उसके चुत पे थोड़े
थोड़े डाल थे लग रहा था उसने 2 3 दिन पहले ही चुत के सफाई के हो ओर
उसके बालों के बीस में उसकी पिंक कॉलर के चुत साफ देख रही थी मैंने उसकी
चुत को टच किया तो वो एकदम से उछल पड़ी मैंने पूछा किया हुआ तो उसने
कहा बहुत गुड गुदि हो रही है फिर मैंने उसे बेड पे लिटाया ओर उसकी चुत
पे अपना हाथ फेरने लगा ओर वो हँसने लगी फिर मैंने उसकी चुत पे अपने
जीभ से चाटने लगा तो रो सिसकियां लेने लगी ओर मेरे सर को अपनी चुत पे
दबाने लगी ओर में उसके चुत को चूसने लगा उसके चुत को मैंने 6 मिनट काक
चूसा ओर उसके चुत झाड़ गई ओर मैंने उसके चुत का पानी पे लिया उसके चुत
का पानी थोड़ा नमकिनी था फिर मैंने उसको लंड चूसने को बोला ओर उसने मेरा
लंड चूसना शुरू किया 1 2 मिनट बाद मैंने उसके मुंह से मेरा लंड निकाला ओर
उसके चुत के छेद पे लगा लिया ओर उसे कहा अंदर डाल दम तो उसने कहा
रुको ओर वो उठी ओर एक बड़ी प्लास्टिक के कॅरी बैग लेकर आई ओर उसे फाद के
बिस्तर पे बिछा दिया ओर उसपर लेट गई ओर में भी उसके ऊपर लेट गया उसके
बॉडी गरम थी ओर बहुत सॉफ्ट भी थी उसने मेरे लंड को हाथ से सही कर
के मुझे काश के पकड़ लिया ओर कहा थोड़ा धीरे करना मैंने कहा ओके फिर
उसने आखा बंद कर ली मैंने धीरे से धक्का देने लगा पर मेरा लंड उसके
चुत में नहीं जा पा रही था उसके चुत बहुत टाईट थी फिर मैंने उसके लिप्स
को सकिंग(सुस्ना) लगा ओर एक ज़ोर का झटका दिया ओर मेरा लंड लग भाग
आड़ा उसके अंदर जा सुका था ओर वो उछलने लग ओर मुझे धक्का देने लगी ओर
मैंने भी उसे किस कर रहा था ओर वो मुझे अपने से अलग करने के कोशिश
कर रही थी पर मैंने उसे काश के पकड़ लिया था उसके नाखून मेरी बॉडी पे
लग रहे थे जिससे मुझे जलन हो रही पर मैंने उसे जाने चोदा नहीं सो
उसके सारी मेहनत बेकार जा रही थी उसकी आंखों से पानी निकल रहा था ओर
उसके पूरी बॉडी पे पसीना होने लग गया था ओर वो घूर घूर के मुझे देख
रही थी पर कुछ बोल नहीं पा रही थी ओर मैंने एक ओर ज़ोर का झटका दिया
ओर वो मुझे ज़ोर ज़ोर से धक्का देने लगी पर मेरा लंड पूरी तरह से उसके
चुत में नहीं गया था तो मैंने एक ओर झटका दिया ओर मेरा पूरा लंड उसके
चुत में घुस गया ओर वो मुझे धक्का देने लग गई पर मैंने उसे नहीं चोदा
ओर 5 से 6 मिनट अंकल रो थोड़ी सेट हुई तो भी में उसे किस कर रहा था थोड़ी
देर बाद रो बिल कुल सेट हो गई मैंने किस करना बंद किया ओर उसके मुंह से
अपना मुंह अलग कर दिया तो उसने मुझे कहा साले इतना ज़ोर से क्यों डाला मुझे
कितना दर्द हो रहा था पता है तो मैंने कहा सॉरी डियर पर किया करता
लंड अंदर जा ही नहीं रहा था तो उसने कहा ठीक है पर अबकी बार
बिलकुल धीरे धीरे करना मैंने कहा ठीक है फिर उसने कहा अभी लंड
बाहर निकालो मैंने कहा क्यों तो उसने कहा मुझे अपनी चुत देखनी है तो
मैंने लंड को बाहर निकाला तो देखा रो खून से लथपथ था ओर उसके चुत से
भी खून निकल रहा था तो मैंने रूमाल से उसके चुत साफ करने लगा फिर
उसने मेरे लंड को भी रूमाल से सेफ किया ओर उसे चूसने लगी फिर उसने
कहा थोड़ी देर रुको मुझे दर्द हो रहा है ओर लेट गई 30 से 40 मिनट बाद वो
उठी तब मेरा लंड सो सुका था तो उसने मेरे लंड को हाथ में पकड़ा तो
मेरा लंड उठ गया ओर उसने उसे शुसना शुरू किया जिससे मेरा लंड पूरी तरह
टाईट हो गया ओर वो लेट गई तो फिर मैंने उसके चुत को गीता किया ओर में
उसके ऊपर लेट गया ओर उसने फिर से मेरे लंड को पकड़ के चुत के हॉल पे
रखा मैंने धीरे धीरे धक्का दिया ओर मेरा लंड उसमें घुसने लगा ओर उसने
मुझे काश के पकड़ लिया ओर आंखें बंद कर ली उसे अभी भी दर्द हो रहा
था फिर में उसे किस करने लगा तो वो भी मुझे किस करने लगी मैंने धीरे
धीरे उसके चुत में पूरा लंड डाल दिया ओर अंदर बाहर करने लगा ओर वो
मुझे काश के पकड़ के किस करने लगी उसके आंख से पानी निकल रहा था पर
वो दर्द सहन कर रही थी मैंने धीरे धीरे अपनी बढ़ता बड़ाई ओर वो
सिसकियां लेने लगी अब उसको मजा आ रहा था ओर उसने अपने पर मेरी कमर
पे रख लिए ओर मेरी कमर को निसे बढ़ाने लगी ओर अब मुझे भी ज्यादा मजा
आ रहा था मैंने भी बढ़ता बड़ाई ओर वो झुद गई पर में अभी तक नहीं
झाड़ा था मैंने ओर बढ़ता बड़ाई ओर में झुड़ने वाला था ओर तुरंत मैंने लंड
बाहर निकाला ओर उसकी चुत पे झुद गया मेरे लंड से इतना ज़ोर से पानी
निकाला के उसके बूब्स तक जा पहुसा ओर में तक के उसके पास लेट गया में
उसके बूब्स पे सर रख दिया ओर वो मेरे बालों को सहला रही थी ओर उसने
कहा बहुत मजा आया पर दर्द भी बहुत हुआ तो मैंने कहा पहले बार तो
दर्द होगही फिर हम 30 मिनट इसे हे लेते रहे फिर वो उठी ओर नहाने के
लिए चली गई ओर में भी उसके पीछे पीछे चला गया उसने बाथरूम में जाकर
पेशाब किया ओर पेशाब करते वक्त उसके चुत से थोड़ा खून निकाला था फिर
उसने पानी स्टार्ट किया ओर मैंने उसे पीछे से पकड़ लिया ओर उसके बूब्स दबाने
लगा ओर उसने भी मेरे लंड को पकड़ के सहलाने लगे मैंने उसे अपनी तरफ
घुमाया ओर उसके बूब्स को चूसने लगा 3 मिनट चूसने के बाद मैंने उसके एक
तंग ऊपर कर के पाना लंड उसके चुत के हॉल पे लगा के धीरे धीरे अंदर
डाला ओर उसने मुझे काश के पकड़ लिया मैंने धीरे धीरे उसको चोदना शुरू
किया में उसके चुत में ज़ोर ज़ोर से झटके देने लगा ओर मेरे हर झटके पे रो
मुजको अपनी बांहों में जकड़ लेती कार्बन 5 मिनट के बाद मैंने उसे कुतिया बनने
को कहा ओर रो बन गई फिर में भी घुटनों के बाल बैठ गया ओर उसके चुत में
अपना लंड घुसेड़ दिया ओर उसकी कमर पकड़ के ज़ोर ज़ोर से मेरी तरफ
खींचने लगा ओर यह में बहुत बढ़ता से कर रहा था तो वो 2 मिनट में ही झड़
गई फिर मैंने उसके गांड पे लंड रख के ज़ोर का झटका दिया ओर मेरा आधे से
ज्यादा लंड उसके गांड में घुस गया ओर वो एकदम से चिल्ला पड़ी पर में
रुकने वालो में से नहीं था मैंने एक ओर ज़ोर का झटका दिया ओर मेरा पूरा लंड
घुस गया ओर उसने दर्द के कारण अपना सर ज़मीन पे लगा दिया ओर अपने मुंह
को हाथ से बंद कर दिया ओर मैंने उसके गांड मारना शुरू किया ओर 2 मिनट
बाद मेरा साथ देने लगी मेरे धक्का देने पर वो गांड को पीछे कर देती
करीबन 5 मिनट उसके गांड मरने के बाद में उसके गांड में ही झड़ गया ओर फिर
रो उठी ओर नहाने लगी मैंने उसके बॉडी पे साबुन लगाया ओर उसने मेरी बॉबी
पर फिर उसने कहा आज में बहुत तक गई हूँ सो कल मिलते है ओर में कपड़े
पहने घर चला गया ओर फिर में रोज़ उसके साथ सेक्स करने जाता मैंने उसके
साथ पूरे 1 महीने तक सेक्स किया ओर इस बीस उसने अपनी एक फ्रेंड को भी
मुझसे चुदवाया जो में आप को नेक्स्ट कहानी में बताऊंगा ओर फिर में वापस तमिल
नाडु आ गया जहां मैंने एक तमिल वाली आंटी के भी चुत मारी ओर आंटी के
चुत मरने में मजा भी बहुत आया
ओर आप सभी को में थेन्क्स
कहना सहता हूँ के आप ने टाइम निकल के मेरी कहानी पड़ी ओर आप सब को
मेरी कहानी कैसी लगी मुझे जरूर बताना
नीतू की सील तोड़ी – hindisexstori

read more